स्वयं जानिए अपने शुभ एवं अशुभ अंकों को

Views: 58
अंक हमारे जीवन से जुड़े कुछ ऐसे विशेषण हैं जो न केवल हमारे जीवन को प्रभावित करते हैं बल्कि एक भविष्य से जुड़ी पूर्व सूचना भी देते हैं । अंक ज्योतिष (Numerology) से भविष्य को बड़ी ही सरलता से समझा जा सकता है । अंक ज्योतिष एक ऐसा विषय है जिसे बिना ज्योतिष के गहन अध्ययन के भी समझा जा सकता है । कोई भी ज्योतिष का सामान्य ज्ञान रखने वाला व्यक्ति अंक ज्योतिष के द्वारा सटीक भविष्यवाणी कर सकता है । कम से कम आप अपने विषय में तो पता लगा ही सकते हैं कि अमुक अंक आपके लिए कैसा रहेगा ।
अंकों से भूत भविष्य और वर्तमान का रहस्य जानने के लिए सबसे पहले आप अपने जीवन से जुड़ी महत्वपूर्ण घटनाएं नोट कर लीजिये । जैसे कि आपकी जन्म तारिख क्या है । किस दिन आपने कोई महत्वपूर्ण उपलब्धि हासिल की । किस दिन आपकी शिक्षा पूर्ण हुई या फिर किस दिन आपने कोई डिग्री हासिल की । यह देखें किस दिन आपकी शादी हुई । उस दिन क्या तारिख थी जब आप सबसे पहले अपने जीवन साथी से मिले थे । आपके जीवन साथी की जन्म तारिख क्या है । आपका विवाह किस तारिख को हुआ और आपकी पहली संतान किस तारिख को हुई । उस दिन क्या तारिख थी जब आपको जीवन में सबसे अधिक ख़ुशी मिली । उस दिन क्या तारीख थी जब आपने पहली बार नौकरी Join की । किस दिन को आपका स्थानान्तरण हुआ और किस दिन आपको Promotion मिली ।अंक ज्योतिष से अच्छा और बुरा दोनों का पता लगाया जा सकता है । ये सब तो हुई कुछ अच्छी घटनाएं, अब आप वे सभी दिन याद कीजिये जिन तारीखों में आपने कुछ खोया था । जैसे कि परिवार से जुड़ी कुछ घटनाएं और विवाद ।
जब आपके पास अपने जीवन से जुड़े सभी अच्छे और बुरे दिनों से सम्बंधित तारीखों का विवरण हो तो समझ लें कि अब आप अपने लिए कोई एक अंक निर्धारण कर सकते हैं । आप उस अंक का पता लगा सकते हैं जिसकी आपके जीवन में बार बार आवृत्ति हुई है ।
हर व्यक्ति के जीवन से कोई न कोई अंक ऐसा जुड़ा होता है जो व्यक्ति के जीवन में बार बार घटित होता है । उदाहरण के लिए किसी भी महीने की नौ, अठारह, सत्ताईस तारीखों में जन्म लेने वाले व्यक्तियों के जीवन में कुछ भी अच्छा बुरा इन्ही तारीखों में होता है ।
इन सब से यह आसानी से समझा जा सकता है कि अंक ६ उनके जीवन में जहाँ खुशियाँ लेकर आता है वहीँ अंक तीन विवाद और मुसीबतों को लेकर घटित होता है। यदि इस तरफ और गहराई से देखा जाये तो बिना किसी ज्योतिषी कि सलाह के आप अपने शुभ अंक वाली तारीख को अपना कोई महत्वपूर्ण कार्य कर सकते हैं और बुरी तारीखों से बचकर उन दिनों में कुछ भी नया करने से परहेज किया जा सकता है ।
इस तरह आप स्वयं पता लगा सकते हैं कि कौन सा अंक आपके लिए शुभ है और कौन सा अंक अशुभ । अशुभ अंक से बचने के लिए अपने घर का, गाडी का या फोन का नंबर निर्धारित करके शुभ फल प्राप्त कर सकते हैं और अशुभ अंकों से सर्वथा अपना बचाव कर सकते हैं । अंक बोलते हैं बस जरूरत है हमें यह समझने की कि अंक क्या बोलते हैं ।
Comments: 0

Your email address will not be published. Required fields are marked with *