astrologerउपाय लेख

बार-बार हो रहे है बीमार तो अपनाए ये ज्योतिष उपाय

159views

                                         बार-बार हो रहे है बीमार तो अपनाए ये ज्योतिष उपाय

स्वस्थ शरीर हर व्यक्ति की पूंजी होता है। यदि शरीर स्वस्थ है तो व्यक्ति कोई भी काम करने में सक्षम होता है इसलिए हमारे शास्त्रों में भी कहा गया है कि पहला सुख निरोगी काया। रोगों के कारण व्यक्ति का धन तो बरबाद होता ही है साथ ही में व्यक्ति मानसिक और शारीरिक दोनों रुप से परेशान हो जाता है। स्वस्थ रहने के लिए सबसे आवश्यक होता है अपने खान-पान और दिनचर्या पर ध्यान देना लेकिन बावजूद इसके कभी-कभी हम बार-बार बीमार होने लगते हैं। इस वजह से हम बहुत से डॉक्टर और दवाइयां बदलते रहते हैं। बीमार का मुख्य कारण तो हमारे शरीर की रोगप्रतिरोधक क्षमता का कम होना होता है ।

                                       “अगर आप क‍िसी रोग से लंबे वक्त से पीड‍ित हैं तो ज्योत‍िषी प्रवीण म‍िश्र आज आपको बताने जा रहे हैं रोग से मुक्ति पाने के लिए सरल-सा उपाय. ज्योत‍िषी प्रवीण म‍िश्र की सलाह के मुताब‍िक, रोग से मुक्ति पाने के लिए प्रतिदिन स्नान करके 21 माला गायत्री मंत्र का जाप करें”

लेकिन कई बार इसके पीछे अन्य कारण भी होते हैं जिसकी वजह से दवाइयां खाने के बाद भी हम स्वस्थ नहीं रह पाते हैं। ज्योतिष में कुछ उपाय बताए गए हैं जिन्हें आप अपना इलाज करवाने के साथ ही आजमा सकते हैं और आप रोगों से पीछा छुड़वा सकते हैं। तो चलिए जानते हैं उपाय।आप बहुत बीमार रहते हैं या फिर आपके परिवार को कोई ऐसा व्यक्ति है जो बहुत इलाज करवाने पर भी स्वस्थ नहीं हो पा रहा है। उसपर दवाइयों का असर नहीं हो रहा है तो इसके लिए थोड़ा सा आटा गूंथकर उसका एक पेड़ा बनाएं। एक लोटे में जल भरें। अब लोई और जल भरे हुए लोटे को लेकर रोगी के ऊपर से तीन बार उतारें। जल को किसी पेड़ जैसे पीपल आदि में चढ़ा दें और आटे का पेड़ा गाय को खिला दें। इस उपाय को तीन दिनों तक करना चाहिए। माना जाता है कि इससे रोगी को जल्दी ही स्वास्थय लाभ होने लगता है।

ALSO READ  जब बृहस्पति प्रथम भाव में हो

स्वस्थ रहने के लिए कीजिए ये उपाय
एक तांबे का सिक्का रात को सिरहाने रखकर सो जाएं। प्रातःकाल इसे शमशान की सीमा में फेंक आयें। ऐसा करने से रोग ठीक हो जाता है।
यदि परिवार में कोई सदस्य भयंकर रोग से पीड़ित हो और दवाओं से कोई लाभ न मिल पा रहा हो तो चाॅदी के पात्र में केशर युक्त जल भरकर सिरहाने रखें। सुबह पीपल या तुलसी में चढ़ा देने से रोग कटता है।तुलसी की माला शुभ योग में धारण करके रोग नाश किए जा सकते है।अगर परिवार में कोई बीमार है तथा लगातार दवा-दारू के बाद भी ठीक नहीं हो रहा है तो रविवार से शुरू कर लगातार तीन दिन गूेहॅू के आटे का पेडा बनाकर तथा एक लोटा पानी बीमार व्यक्ति के सिर पर से तीन बार उबारकर जल किसी पेड़ में तथा गेंहूॅ के पेड़ा गाय को खिला दें। तीन दिन में स्वास्थ्य लाभ होगा। ध्यान रखें कि यह प्रयोग तीन दिन चलना चाहिए भले ही रोगी पहले ही ठीक क्यों न हो जाए।

ALSO READ  संतान सुख में आ रही बाधा ? तो करें ये उपाय

रखें इस बात का ध्यान 
यदि कोई आपके घर में लंबे समय से बीमार है और स्वस्थ नहीं हो पा रहा है तो उसे दक्षिण दिशा की ओर सिर करके सुलाना चाहिए। इसी के साथ रोगी की दवाईयां और पानी आदि भी इसी दिशा में रखें। रोग को जब भी दवा खिलाएं तो इस बात का ध्यान रखें कि उसका मुख पूर्व दिशा की ओर हो। इससे रोगी कुछ समय में धीरे-धीरे ठीक होने लगता है।
किसी अस्पताल में जाकर दवाइयों और फलों आदि का दान करें।

किसी अस्पताल में जाकर दवाइयों और फलों आदि का दान करें।अगर आपके घर में कोई बहुत बीमार रहता है तो आपको किसी अस्पताल आदि में जाकर थोड़े-थोड़े समय पर, जरुरतमंदो को फल और दवाइयां दान करनी चाहिए। इससे आपको स्वयं मानसिक शांति अनुभव तो होता ही है साथ ही मान्यता है कि इससे व्यक्ति के रोग कटने लगते हैं और वह जल्दी ही स्वस्थ हो जाता है।