उपाय लेख

अमीर बनना नहीं है कोई मुश्किल काम,ये रहा मंत्र ?

546views

बनना है अमीर तो ये रहा मंत्र ?

आज के समय में पैसे को धरती का दूसरा भगवान तक कहा जाता है। ऐसे में हर व्यक्ति जल्द से जल्द अमीर होना चाहता है, लेकिन कई बार व्यक्ति तमाम कोशिशों के बावजूद धनवान नहीं बन पाता है।वहीं कुछ लोग बहुत कम समय में ही आकूत धन के स्वामी बन जाते हैं। ऐसे में लोगों के मन में प्रश्न जरूरी कोंधता है कि ये इतनी जल्दी इमानदारी से धनवान कैसे बन गया।तो इस संबंध में पंडित सुनील शर्मा के अनुसार शास्त्रों का मत है कि हर व्यक्ति अपने वर्तमान और पूर्वजन्मों जन्म के कर्मों के आधार पर धनवान या गरीब होता है। परंतु यदि व्यक्ति प्रयास करे तो अपनी किस्मत को भी बदल सकता है।कुल मिलाकर आर्थिक रूप से कमजोर आदमी भी देवी लक्ष्मी को प्रसन्न करके धनवान बन सकता है। इसके लिए शास्त्रों में एक आसान सा उपाय बताया गया है।वहीं कुछ जानकारों का कहना है कि व्यक्ति धनवान बनता है या तो अपने भाग्य के बल पर या कर्म के बल पर, लेकिन कभी-कभी यह दोनों ही बल समाप्त हो जाते हैं तो कहते हैं निर्बल के बल राम या धर्म के करो कोई उपाय।

मंत्र आपको बना देगा धनवान!…

जीवन में मनचाही सफलता पाने के लिए रोजमर्रा कई उपाय किए जाते हैं। पंडित शर्मा के अनुसार मान्यता के अनुसार एक ऐसा मंत्र भी है जो आपको धनी बनाने के साथ-साथ अवश्य ही हर कार्य में सफलता प्रदान करेगा।

अत: नित्यकर्म से निवृत्त हो जाने के बाद स्नान करते समय इस मंत्र का स्मरण अवश्य करें :-

स्नान मंत्र :

गंगे च यमुने चैव गोदावरी सरस्वती।
नर्मदे सिन्धु कावेरी जले अस्मिन् सन्निधिम् कुरु।।

ये उपाय भी हैं बहुत कारगर :—

एकादशी के दिन करें ये काम:

यह उपाय ऐसा है जिसके विषय में विष्णु धर्मेत्तर पुराण कहता है कि जो व्यक्ति इस उपाय को करता है उसकी गरीबी हमेशा के लिए दूर हो जाती है।
मेरूतंत्र भी इस बात का समर्थन करता है कि यह ऐसा उपाय है जिससे घोर कलयुग में भी देवी लक्ष्मी की कृपा प्राप्त की जा सकती है। यह उपाय सिर्फ एकादशी के दिन करना होता है।

यह चमत्कारी उपाय…
इस उपाय के तहत प्रत्येक एकादशी तिथि के दिन भगवान विष्णु के साथ देवी लक्ष्मी की पूजा करें। इसके बाद लक्ष्मी सहस्रनाम का पाठ करें और प्रत्येक मंत्र के साथ देवी लक्ष्मी पर एक फूल चढ़ाते जाएं।

1. लक्ष्मी का प्रतीक कौड़ियां : पीली कौड़ी को देवी लक्ष्मी का प्रतीक माना जाता है। कुछ सफेद कौड़ियों को केसर या हल्दी के घोल में भिगोकर उसे लाल कपड़े में बांधकर घर में स्थित तिजोरी में रखें। कौड़ियों के अलावा एक नारियल की विधि-विधान से पूजा कर उसे चमकीले लाल कपड़े में लपेटकर तिजोरी में रख दें।

2. शंख : शंख समुद्र मंथन के समय प्राप्त चौदह अनमोल रत्नों में से एक है। लक्ष्मी के साथ उत्पन्न होने के कारण इसे लक्ष्मी भ्राता भी कहा जाता है। यही कारण है कि जिस घर में शंख होता है वहां लक्ष्मी का वास होता है। घर में शंख जरूर रखें।

3. पीपल की पूजा : प्रति शनिवार को पीपल को जल चढ़ाकर उसकी पूजा करेंगे तो धन और समृद्धि में बढ़ोत्तरी होगी।

4. ईशान कोण : घर का ईशान कोण हमेशा खाली रखें। हो सके तो वहां पर जलभरा एक पात्र रखें। चाहे तो वहां जल कलश भी रख सकते हैं।

5. घर में रखें बांसुरी: बांस निर्मित बांसुरी भगवान श्रीकृष्ण को अतिप्रिय है। जिस घर में बांसुरी रखी होती है, वहां के लोगों में परस्पर प्रेम तो बना रहता है और साथ ही सुख-समृद्धि भी बनी रहती है।

गुप्त रहस्य जो बनाते हैं धनवान…

ज्योतिष के जानकारों के अनुसार धनवान बनने के 5 ऐसे गुप्त रहस्य जिन्हें अपनाकर आप चमत्कारिक रूप से धनवान बनने की राह पर चल पड़ेंगे।

रहस्य 01 : ईश्‍वर के पास हर कोई मांगने जाता है लेकिन धन्यवाद देने कितने लोग जाते होंगे? आपको जीवन में अब तक जो भी मिला है उसके लिए ईश्वर, प्रकृति या किसी भी व्यक्ति को दिल से धन्यवाद दो। धन्यवाद की ताकत को समझो। प्रतिपल धन्यवाद के लिए तैयार रहो, क्योंकि आगे भी आपको बहुत कुछ मिलने वाला है।

रहस्य 02 : ईश्वर, प्रकृति या आकाश के पास आपको देने के लिए बहुत कुछ है, लेकिन यदि आपके पास किसी वस्तु को पाने के लिए जी-भर की भी चाहत नहीं है तो वह नहीं मिलेगी। आपकी चाहत या मांग में ताकत होना चाहिए। उससे मांगते वक्त मन में विश्वास रखो। आपकी मांग स्पष्ट होना चाहिए। पहले कोई भी एक वस्तु मांगें और उसके मिलने का विश्‍वास के साथ इंतजार करें, तो वह निश्‍चित मिलेगी। आपकी इच्छा या मांग बदलती रहेगी तो इंतजार लंबा होता जाएगा।

रहस्य 03 : यदि आप सचमुच ही धनवान बनना चाहते हैं तो आपको एक धनपति की जो सोच होती है, वैसी ही अपनी सोच बनाना होगी। आपको आपका रहन और सहन बदलना होगा। खुद को अमीर समझना होगा। विश्वास की बहुत बड़ी ताकत होती है। सोच बदलो तो भविष्य बदलेगा। जो लोग खुद को दरिद्र मानते हैं, वे हमेशा दरिद्र ही बने रहते हैं।

रहस्य 04 : घर को वस्तु अनुसार ढालें। क्रोध न करें और किसी भी प्रकार के व्यसन से दूर रहें। बैठक रूम में ऐसे चित्र लगाएं जिसमें एक हंसता हुआ परिवार नजर आ रहा हो। पूजा स्थान पर माता लक्ष्मी का ऐसा चित्र लगाएं जिनके हाथों से धन की वर्षा हो रही हो। भोजन सदैव पूर्व या उत्तर की ओर मुख करके करें। दीपक जब भी जलाएं तो उसकी बाती उत्तर की ओर रखें। घर की तिजोरी में तांबे, पीतल या चांदी के सिक्के पर्याप्त मात्रा में रखें। इसके अलावा हल्दी की गांठ, पीली कोड़ियां, तांबे या चांदी के सिक्के तिजोरी में रखें। घर में वातावरण को सुगंधित बनाए रखें। देहली पूजा करें। जेब में हमेशा कुछ सिक्के रखें। अंतिम उपाय यह कि प्रति शनिवार को पीपल के वृक्ष के नीचे घी का दीपक और सुगंधित अगरबत्ती लगाएं।रहस्य 05 : 10, 50 या 100 के नोट की एक गड्डी बना लें। आप प्रतिदिन सोने से पूर्व उन्हें गिनकर यथायोग्य स्थान पर रखकर सो जाएं। ऐसा कम से कम 43 दिन तक करें।

06 अचूक उपाय…

माना जाता है कि कर्म शुद्ध है तो भाग्य भी शुद्ध ही होगा। औश्र यदि भाग्य जाग्रत है तो किसी भी कार्य में बाधा उत्पन्न नहीं होगी यानि हर तरह का मनचाहा कार्य निर्विघ्न संपन्न होगा। यदि भाग्य जाग्रत है तो आपको धनवान बनने से कोई रोक नहीं सकता।
भाग्यवान बनने के लिए कुछ बातों में सावधानी रखना होगी और कुछ ऐसे उपाय भी करने होंगे। पंडित शर्मा के अनुसार ये हैं वे अचूक

सात्विक उपाय…

1. दुर्भाग्य से बचें : शारीरिक दोष, वास्तु दोष और कर्म दोष से दुर्भाग्य निर्मित होता है। शरीर के सभी छिद्रों को अच्छे से जल से धोएं। शौचालय और स्नानघर का वास्तु सुधारें। ऐसा कोई कर्म न करें जिससे आप को पछताना पड़े। पूजा स्थान पर बांस से बनी हुई अगरबत्तियां न जलाएं। बांस के जलने से दुर्भाग्य पैदा होता है। ऐसी अगरबत्ति का इस्तेमाल करें जिसमें लकड़ी की तिलियां लगी हो। या केवल धूप बत्ति जलाएं।

2. धन के नुकसान से बचें : यदि बेवजह धन का नुकसान हो रहा है। धन चोरी हो रहा है, डूब रहा है या गायब हो जाता है तो रोज सुबह नीम की लकड़ी से दातुन करें। रात को झूठे बर्तन किचन में न रखें। उत्तर दिशा में बैठकर ही भोजन करें और भोजन की थाली में हाथ न धोएं।

3. मुक्त करें पक्षियों को : पिंजरे में आप किसी पक्षी को ले जाते हुए देखें या कोई पक्षी पिंजरे में है तो आप उन पक्षियों को लेकर उन्हें आजाद कर दें। इस कार्य से आपके ऊपर कैसा भी कर्ज हो आप उससे मुक्त हो जाएंगे। लेकिन यदि आपने अपने घर में किसी पक्षी को पिंजरे में रख रखा है तो आप आज नहीं तो कल कभी भी भयंकर कर्ज के बोझ तले दब जाएंगे।

4. एकादशी का व्रत रखें : हिन्दू धर्म में एकादशी और प्रदोष का व्रत रखने के पीछे का विज्ञान यह कि यह आपके चंद्र और शनि के खराब असर को बेअसर कर शुभ में बदल देता है। प्रत्येक पक्ष (शुक्ल और कृष्ण पक्ष) के ग्यारस और त्रयोदशी को विधिपूर्वक व्रत रखेंगे तो निश्‍चित ही आपके ‍जीवन से निर्धनता और सभी तरह के संकट दूर हो जाएंगे।

5. मांगलिक कार्य निर्विघ्न संपन्न : यदि घर में कोई मांगलिक कार्य होने वाला है और आप चाहते हैं कि वह निर्विघ्न संपन्न हो जाए तो इसके लिए एक उपाय है। जिस दिन मंगल कार्य हो उस दिन एक मुठ्ठी गेहूं लें और उसे लाल कपड़े में पोटली जैसा बांधकर उसे घर की पूर्व दिशा में किसी कोने में रख दें। आपका जो भी मंगल कार्य है वह ईश्‍वर की कृपासे आपके ईष्टदेव की कृपा से बिना किसी बाधा के पूरा हो जाएगा।

6. कपड़े पहने सोच समझ कर: हमारे भाग्य का संबंध कपड़ों से भी होता है। अत: आप कौन से ग्रहों के वस्त्र पहनते हैं इससे भी आपका भाग्य निर्मित होता है। यदि आप राहु और केतु से संबंधित वस्त्र पनन रहे हैं तो जीवन में अचानक आने वाले संकटों का सामना करना होगा।
महिलाओं को चाहिए कि वे अपने वस्त्रों में पीले रंग का उपयोग करें और पुरुषों को चाहिए कि वे अपने वस्त्रों में चमदार सफेद, गुलाबी और आसमानी रंग का इस्तेमाल करें। पेंट काली पहन सकते हैं। इसी तरह आप अपने घर के पर्दों और अन्य वस्तुओं के रंग पर भी ध्यान दें। काला, भूरा, कत्थई, मटमेला, सूर्ख लाल, जामूनी आदि रंगों का कम ही इस्तेमाल करें।
कुछ खास टोटके…

1. मालामाल होने के लिए : यदि आप मालामाल होना चाहते हैं तो काली मिर्च के 5 दाने लें और उन्हें अपने सिर पर से 7 बार वार लें। इसके बाद किसी चौराहे या किसी सुनसान स्थान पर खड़े होकर चारों दिशाओं में 4 दाने फेंक दें। इसके बाद 5वें दाने को ऊपर आसमान की ओर फेंक दें। इसके बाद चौराहे से पुन: लौटते वक्त पीछे पलटकर न देंगे। माना जाता है कि इस उपाय से अचानक धन प्राप्ति के योग बनते हैं।
दूसरा टोटका यह कि 10-10 के 100 अच्छे नोट इकट्ठे करें और उनको तिजोरी में रखें। इसी तरह 10 की एक गड्डी और 40-50 सिक्कों का एक सेट बनाएं और उसे प्रतिदिन रात में सोते समय गिनकर उचित स्थान पर रख दें। हो सके तो नोटों के ढेर का एक चित्र खरीदकर ले आएं और उसे घर में वहां पर चिपका दें जहां पर आपकी नजर सहज ही रूप से जाती हो।

2. भाग्य चमकाने के लिए : एक साबूत पानीदार नारियल लें और उसे अपने उपर से 21 बार वारकर किसी देवस्थान की आग में डाल दें। यह उपाय आप मंगलवार और शनिवार को ही करें। ऐसा पांच बार करें। ऐसा घर के सभी सदस्यों के उपर से वारकर करेंगे तो उत्तम होगा।
इसके अलावा मंगलवार और शनिवार को हनुमानजी के मंदिर में जाकर हनुमान चालीसा पढ़े और एक बार उनको चौला अवश्य चढ़ा दें।

3. किस्मत का ताला : सबसे पहले आप ताले की दुकान पर किसी भी शुक्रवार को जाएं और एक स्टील या लोहे का ताला खरीद लें। लेकिन ध्यान रखें ताला बंद होना चाहिए खुला ताला नहीं। ताला खरीदते समय उसे न दुकानदार को खोलने दें और न आप खुद खोलें। ताला सही है या नहीं यह जांचने के लिए भी न खोलें। बस बंद ताले को खरीदकर ले आएं।
उस ताले को एक डिब्बे में रखें और शुक्रवार की रात को ही अपने सोने वाले कमरे में बिस्तर के पास रख लें। शनिवार सुबह उठकर स्नान आदि से निवृत्त होकर ताले को बिना खोले किसी मंदिर या देवस्थान पर रख दें। ताले को रखकर बिना कुछ बोले, बिना पलटें वापिस अपने घर आ जाए।

माना जाता है कि जैसे ही कोई उस ताले को खोलेगा आपकी किस्मत का ताला भी खुल जाएगा।

परेशानी दूर करने का टोटका…

यदि आपका कोई काम अटक रहा है या फिर इसके अलावा आपको नौकरी या प्रमोशन न मिलने के कारण आप परेशान है, या फिर बिज़नेस में आपका नुकसान हो रहा है तो इस उपाय को जरूर करे इससे आपकी सारी समस्‍या दूर हो जाएगी।
ये ज्योतिष बीके श्रीवास्तव के अनुसार एक उपाय है तो आप गुरुवार, शुक्रवार और शनिवार को भी कर सकते हैं।
इसके लिए सबसे पहले 5 लौंग ले लें और इसे एक लाल कपड़ा में लपेट लेना है। इसके बाद महालक्ष्मी और कुबेर जी को ध्यान में रखकर घर के मंदिर में बैठ कर लक्ष्‍मी जी की पूजा करें और धन प्राप्‍त करने की अराधना करें इसके बाद उसे अपनी तिजोरी में रख दे। ये उपाय करने के बाद माना जाता है कि कि 7 दिन के अंदर आपकी आर्थिक स्थिति ठीक हो जाएगी।