उपाय लेख

 संतान प्राप्ति के लिए करें,शिव की आराधना…

46views

 

 संतान प्राप्ति के लिए करें भगवान शिव की आराधना

सोमवार का दिन भगवान शिव का दिन माना जाता है। इस दिन भगवान शिव की आराधना करने से वे जल्‍द ही प्रसन्‍न होते हैं और मनवांछित फल का वरदान प्रदान करते हैं।

भगवान शिव को भोलेनाथ भी कहा जाता है और वे अपने नाम के अनुरुप भोले हैं। भोलेनाथ को प्रसन्न करने के लिए केवल सच्चे मन से पूजा करने की आवश्यकता है वे केवल एक लोटे पानी से प्रसन्न हो जाते हैं, कहा जाता है जिनकी शादी में विलंभ होता है उसके लिए सोमवार के दिन उपाय करने से मनवांछित वर की प्राप्ति होती है। इस दिन शिव की आराधना से धन संबंधी परेशानी, विवाह, सुख-समृद्धि हर मनोरथ पूर्ण हो सकती है।

ALSO READ  कर्ज से है परेशान ? तो करें ये उपाय...

जानिए कुछ उपाय जो दिला सकते हैं आपको अनेकों लाभभगवान शिव को कच्‍चे चावल चढ़ाने से धन लाभ होगा, तिल चढ़ाने से सारे पापों का नाश होता है, मछलियों को आटे की गोलियां खिलानें से भी धन प्राप्ति होती है।सोमवार के दिन 21 बिल पत्रों पर चंदन लगाकर ऊं नम: शिवाय लिखकर शिवलिंग पर अर्पित करें।

SHIVसुख-समृद्धि में वृद्धि के लिए
सोमवार के दिन भोलेनाथ को जौं अर्पित करने से आपके सुख में वृद्धि होगी इसी के साथ प्रखर बुद्धि पाने के लिए शक्‍कर युक्‍त दूध से शिवलिंग का अभिषेक करें और परेशनियों से छुटकारा पाने के लिए सोमवार को बैल को हरी घास खिलाएं क्योंकि बैल को नंदी का रुप माना जाता है।

ALSO READ  घर की सुख-समृद्धि के लिए करें,लौंग के चमत्कारी उपाय...

संतान की कामना के लिए
संतान की कामना पूरी करने के लिए सोमवार के दिन आटे से 11 शिवलिंग बनाकर 11 बार उनका जलाभिषेक करने से संतान प्राप्ति के योग बनते हैं, भगवान शिव को गेहूं अर्पति करने से भी संतान की कामना पूरी होती है और संतान सुख में वृद्धि चाहते हैं तो भी यह उपाय कर सकते हैं।

SHIVविवाह से संबंधित परेशानियां
सोमवार के दिन शिवलिंग पर केसर युक्त दूध चढ़ानें से विवाह में आ रही रुकावटें दूर होती है। इस उपाय को करने के बाद शीघ्र विवाह के योग बनते हैं।

रोगों से मुक्ति के लिए सोमवार के दिन शिवलिंग का 101 बार जलाभिषेक करें, जलाभिषेक करते समय ॐ जूं सः मंत्र का जाप करते रहें।
SHIV इन्हीं सब उपाय के साथ आप सोमवार के दिन व्रत, उपवास भी कर सकते हैं। ऐसा कहा जाता है की सोमवार के दिन भगवान से अच्छा जीवनसाथी पाने के लिए उनका व्रत किया जाता है, लेकिन वैवाहिक जीवन में सुख रहे इसके लिए भी सोमवार का व्रत कर सकते हैं। मंनवांछित वर की प्राप्ति के लिए सोमवार का व्रत कार्तिक माह के पहले सोमवार से शुरू करना चाहिए।ये दिन माता पार्वती और भगवान शिव का होता है। ऐसी मान्यता है कि 16 सोमवार तक श्रृद्धापूर्वक व्रत करने से सभी मनोकामनाएं पूरी होती है।