Health Astrology

बीमारी से बचने के लिए अपनाए ये असरदार उपाय

154views

बीमारी से बचने के लिए अपनाए ये असरदार उपाय

वहीं ज्योतिष में भी दिल को दुरुस्त रखने के कई कारगर और असरदार उपाय बताए गए हैं, जिन्हें फॉलो करके आप अपने दिल का हाल बेहतर कर सकते हैं। वर्तमान में हार्ट डिसीस के मामले लगातार बढ़ रहे हैं। दिल की बीमारियों से बचने के लिए हर चिकित्सा पद्धति में खान-पान से लेकर एक्सरसाइज के उपाय बताए गए हैं। योग करने से भी दिल की बीमारियों से काफी हद तक बचा जा सकता है। वहीं ज्योतिष में भी दिल को दुरुस्त रखने के कई कारगर और असरदार उपाय बताए गए हैं, जिन्हें फॉलो करके आप अपने दिल का हाल बेहतर कर सकते हैं।

108 बार गायत्री मंत्र का जाप जरूर करें

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार दिल को दुरुस्त रखना चाहते हैं, तो रविवार के दिन शिवजी की पूजा करें और उसके बाद सूर्य को जल से अघ्र्य दें। इसके बाद कम से कम एक माला यानी 108 बार गायत्री मंत्र का जाप जरूर करें। ज्योतिष शास्त्र में माना गया है कि ऐसा करने से दिल के रोग दूर हो जाते हैं। शरीर में सकारात्मक ऊर्जा का संचार होने लगता है।

‘ऊं भूर्भुव: स्व: तत्सवितुर्वरेण्यम् भर्गो देवस्य धीमहि धियो यो न: प्रचोदयात् ।।’

प्रतिदिन तांबे के लोटे से सूर्य को दें अघ्र्य

ज्योतिष शास्त्र में हृदय का संबंध सूर्य से माना गया है। इसके लिए आपकी कुंडली में सूर्य ग्रह का अनुकूल होना बहुत जरूरी है। सूर्य की स्थिति कुंडली में सही हो या न हो, आप हर रोज तांबे के पात्र में जल भरकर सूर्यदेव को अघ्र्य दें। अघ्र्य देते समय सूर्य के बीज मंत्र ‘ऊं ह्रां ह्रीं ह्रौं स: सूर्याय नम:’ मंत्र का जाप करें। ऐसा करने से ना सिर्फ दिल की बीमारी दूर होगी, बल्कि अन्य कई बीमारियों में भी आपको लाभ मिलेगा।

ये रत्न नॉर्मल रखते हैं आपका दिल

दिल के रोग से बचने के लिए रविवार के दिन सूर्य देव को जल अर्पित करने के बाद बेलपत्र की जड़ को रेशमी कपड़े में बांध लें और फिर उसे दाहिनी यानी राइट हैंड साइड की भुजा में बांध लें। इसके बाद सूर्य से संबंधित चीजों का दान करें। ऐसा करने से दिल की बीमारियों से राहत मिलेगी। वहीं दिल के रोग से पीडि़त व्यक्ति को पन्ना, सफेद मोती और पीला पुखराज धारण करना चाहिए। हालांकि एक्सपर्ट से सलाह के बाद ही इसे धारण करें।

अपने पास रखें ये पौधा हर रोज दें पानी

दिल के रोगों से बचने का एक कारगर ज्योतिषीय उपाय यह भी है कि सोमवार की रात को आरामदायक स्थिति में बैठ जाएं। अब चंद्र मंत्र ‘ऊं सोम सोमाय नम:’ का 108 बार जाप करें। यह मंत्र दिल की बीमारियों के लिए बेहद फायदेमंद माना गया है। साथ ही इस मंत्र से आपका शरीर हमेशा फिट बना रहता है। इसके साथ ही आप सक्यूलेंट्स का पौधा लगाएं। इस पौधे को हर रोज पानी दें। ऐसा करने से लाभ मिलेगा। दरअसल यह पौधा दिल की बीमारियों को दूर करने में सहायक माना जाता है।