Health Astrology

रहते है अक्सर बीमार ? तो करें ज्योतिष उपाय

333views

रहते है अक्सर बीमार ? तो करें ज्योतिष उपाय

Jyotish Upay For Health: यदि आपको ऐसा लगता है कि आपके घर में बीमारियों ने अचानक से डेरा डाल लिया है. आए दिन परिवार में कोई न कोई बीमार रहता है, तो डॉक्टर के इलाज के साथ ही आप कुछ ज्योतिष व वास्तु के उपाय भी आजमा सकते हैं.जीवन में धन-धान्य के साथ ही अच्छे स्वास्थ्य की कामना हर कोई करता है, लेकिन कहते हैं कि कोई भी परेशानी बताकर नहीं आती.आज के समय व्यक्ति का जीवन इतना भागदौड़ भरा हो गया है कि कब कौन सी बीमारी व्यक्ति को घेर ले कोई अनुमान नहीं लगाया जा सकता है. लेकिन यदि आपको ऐसा लगता है कि आपके घर में बीमारियों ने अचानक से डेरा डाल लिया है. आए दिन परिवार में कोई न कोई बीमार रहता है, तो डॉक्टर के इलाज के साथ ही आप कुछ ज्योतिष व वास्तु के उपाय भी आजमा सकते हैं, क्योंकि कई बार खराब ग्रह की वजह से भी व्यक्ति अत्यधिक बीमार रहता है. ऐसे में आज हम कुछ ज्योतिष उपाय लेकर आए हैं, जिन्हें आजमा कर आप बीमारियों के छुटकारा पा सकते हैं।

यदि आप बहुत बीमार रहते हैं या परिवार में कोई व्यक्ति बीमार है या बहुत इलाज करवाने पर भी स्वस्थ नहीं हो पा रहा है, तो थोड़ा-सा आटा गूंथकर उसका एक पेड़ा बनाएं और एक लोटे में जल भरें. अब लोई और जल भरे हुए लोटे को लेकर रोगी के ऊपर से तीन बार उतारें. जल को किसी दैवीय वृक्ष जैसे पीपल आदि में चढ़ा दें और आटे का पेड़ा गाय को खिला दें. ज्योतिष के अनुसार इस उपाय को तीन दिनों तक करने से जल्द ही लाभ देखने को मिलता है।

यदि कोई व्यक्ति आपके घर में लंबे समय से बीमार है और ठीक नहीं हो पा रहा है तो उसे दक्षिण दिशा की ओर सिर करके सोना चाहिए. साथ ही रोगी की दवाइयां और पानी आदि भी इसी दिशा में रखें. रोगी को जब भी दवा खिलाएं तो इस बात का ध्यान रखें कि उसका मुख पूर्व दिशा की ओर हो. मान्यता है कि इससे रोगी कुछ समय में धीरे-धीरे ठीक होने लगता है।

परिवार के किसी सदस्य का स्वास्थ्य खराब रहता है तो किसी अस्पताल में जाकर थोड़े-थोड़े समय पर, जरूरतमंदों को फल और दवाइयां दान करें. इससे आपको स्वयं मानसिक शांति अनुभव होगा. साथ ही मान्यता है कि इससे व्यक्ति के रोग कटने लगते हैं और वह जल्दी ही स्वस्थ हो जाता है।

इसके अलावा घर के मुख्य दरवाजे के सामने यदि गड्ढा हो तो उसमें तुरंत भराव करा दें. घर के मुख्य दरवाजे के सामने गंदगी न रहने दें, क्योंकि इससे भी बीमारियां एक के बाद एक करके आती रहती हैं।

ज्योतिष के अनुसार, मरीज के कमरे में कुछ हफ्तों तक मोमबत्ती जलाकर रखें. इसके अलावा शयनकक्ष को कभी भी पूरी तरह से बंद न करें. साथ ही यहां झूठे बर्तन भी अधिक समय तक नहीं रखें।