Dharma Remedy Articles

सिंह राशि में शनि गोचर का प्रभाव

188views

सिंह राशि में शनि गोचर का प्रभाव

यदि शनि सप्तम भाव में गोचर करता है, तो यह वैवाहिक जीवन में अशांति पैदा कर सकता है। लेकिन आप यह ध्यान अवश्य रखें कि सभी दंपति में अशांति का माहौल बनता है। सबके बीच अनबन होती है। इसलिए आप कोशिश करें कि आपके वैवाहिक जीवन में बात इतनी न बिगड़े कि आपके बीच अलगाव की स्थिति उत्पन्न हो जाए। हालांकि, इसके लिए आपको गंभीर प्रयास करने होंगे। इसके लिए आप अपने गुस्से को नियंत्रण में रखें, शब्दों पर नियंत्रण बनाए रखें और अगर बात बिगड़ते हुए नजर आए, तो शांत हो जाएं। इस तरह के छोटे-छोटे प्रयास कर आप अपने वैवाहिक जीवन को बिगड़ने से रोक सकते हैं।
वैसे इस भाव में शनि गोचर यह संकेत भी दे रहा है कि जो लोग नौकरीपेशा हैं और वेतन पर निर्भर रहते हैं, उनके लिए यह समय बहुत अच्छा है। हालांकि, जो व्यावसाय से जुड़े हुए लोग हैं, उनके लिए कुछ समस्याएं सामने आएंगी। संभवतरू आपकी राय आपके बिजनेस पार्टनर के साथ मेल न खाए, जिससे परेशानी हो सकती है। लेकिन आपको अपनी राय रखने से पहले तमाम तथ्यों पर ध्यान अवश्य देना चाहिए। इसके साथ ही आप यह भी ध्यान रखें कि सफल होने के लिए शॉर्ट कट अपनाना सही नहीं है। अवैध मामलों से भी दूर रहें। सीधे-सरल रास्ते को अपनाएं। इस तरह आपके लिए जीवन में प्रगति की ओर बढ़ना आसान रहेगा। साथ ही आप इस तथ्य को स्वीकार करें कि सफलता की ऊंचाई पर चढ़ने के लिए धैर्य और कड़ी मेहनत जरूरी है।

उपाय –

– काली गाय को खिलाने से भी शनि के निराशावादी पहलुओं से छुटकारा पाया जा सकता है।