ग्रह विशेष

17 दिसंबर 2020 तक रहेगा बुध का वृश्चिक राशि में गोचर, ऐसे में बुध सभी 12 राशियों पर क्या प्रभाव डालेंगे? आइये जानते हैं

30views

बुध ग्रह को ज्योतिष शास्त्र में युवराज का दर्जा दिया गया है। बुध ग्रह व्यवसाय, वाणी, लेखन, शिक्षा आदि का कारक ग्रह माना जाता है। इसे तटस्थ ग्रह भी कहा जाता है क्योंकि जिस भी ग्रह के साथ यह युति करता है उसके जैसे ही फल प्रदान करने लगता है।

कुण्डली में बुध अच्छा हो तो इन्सान के अन्दर मारकेटिंग क्वालिटी बहुत अच्छी होती है। वाणी इतनी मधुर होती है कि अपनी बातों से लोगों को आकर्षित कर लेते हैं। दुकान में माल की क्वालिटी घटिया ही क्यों ना हो अपना बनाने की कला जबरदस्त होती है और लोग उनकी बातों में आकर वो माल खरीद भी लेते हैं। ये लोग मेथेमेटिक्स में कमाल के होते हैं।

यदि बुध कुंडली में अशुभ हो तो त्वचा संबंधी विकार हो सकते हैं और ऐसा व्यक्ति स्पष्टता से लोगों के सामने अपनी बात भी नहीं रख पाता।  इसलिए तरक्की करने के लिए बुध का शुभ होना आवश्यक है और शुभ ना हो तो उसे उपायों के बल पर शुभ करना ही चाहिए।

बुध ग्रह को एक बेहद शुभ ग्रह माना गया है, लेकिन कभी-कभी ये अशुभ ग्रहों के संपर्क में आने पर जातकों को अशुभ परिणाम भी देता है। बुध की अभिव्यक्ति मिलने से व्यक्ति में काम काज करने की समझ विकसित होती है। जातक में दूसरों के साथ समझ का दायरा भी विकसित होता है।

वह अपनी कार्यक्षमता को अच्छे रूप से दूसरों के समक्ष रखने में कामयाब रहता है, बुध से प्रभावित व्यक्ति अपने विचारों को बहुत ही प्रभावशाली तरीके से लेखन द्वारा अभिव्यक्त कर सकता है। बोलने में मधुर होता है, जातक सामान्यतया व्यवहार कुशल होता है व कठिन परिस्थितियों व गंभीर मसलों को कूटनीति से सुलझाने में सक्षम होता है। जातक शांत स्वभाव का होता है, कार्यों को पूरा करने में चतुराई से काम लेता है।

बुध का गोचर 28 नवम्बर 2020 को तुला राशि से वृश्चिक राशि में होने जा रहा है। बुध का यह राशि परिवर्तन शनिवार को सुबह 07 बजकर 04 मिनट पर होगा। जिसके बाद बुध 17 दिसंबर 2020 को दिन में 11 बजकर 37 मिनट तक इसी राशि में रहेंगे। इस दौरान वृश्चिक राशि में बुध सूर्य की युति होने से बुधादित्य योग भी बन रहा है। ऐसे में बुध सभी 12 राशियों पर क्या प्रभाव डालेंगे? आइये जानते हैं।

मेष राशि (Aries)

मेष राशि वालों के लिए बुध ग्रह उनकी राशि से आठवें भाव में गोचर करेंगे। नौकरी पेशा और कारोबारियों को इस दौरान अपने शत्रुओं से बहुत संभलकर रहने की जरुरत है आपका शत्रु पक्ष इस दौरान सक्रिय हो सकता है। बुध के इस गोचर के चलते आपकी आर्थिक स्थिति बिगड़ सकती है।

इस दौरान बिजनेस करने वालों को परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। आपको आर्थिक पक्ष को मजबूत करने के अधिक प्रयास करने होंगे। इस भाव में बुध का गोचर उन जातकों के लिए अच्छा रहेगा जो शोध कर रहे हैं। स्वास्थ्य जीवन में भी इस राशि के लोगों को कुछ समस्याओं का सामना करना पड़ेगा।

आपको अपनी सेहत को दुरुस्त रखने के लिए लगातार प्रयास करने की जरुरत है।  बुध के इस गोचर के दौरान आपको कर्ज लेने और देने से बचना चाहिए नहीं तो धन की हानि हो सकती है। यदि आप इस समय काल में यात्रा करने वाले हैं तो अपने सामान का आपको विशेष ध्यान रखना होगा, चोरी होने की संभावना है।

वृषभ राशि (Taurus)

वृषभ राशि वालों के लिए बुध ग्रह उनकी राशि से सातवें भाव में गोचर करेंगे| यह गोचर आपके लिए बेहद अनुकूल रहने वाला है इस गोचर काल में आपके व्यापार में उन्नति होगी और आपका कारोबार आगे बढ़ेगा। यदि आप इस समय में कोई नया काम भी करना चाहते हैं तो वह फलीभूत होगा और आपको उस काम में सफलता मिलेगी।

ALSO READ  जानें क्या होता है टकराव के ग्रह ?

भाग्य का आपको पूरा साथ मिलेगा, जिससे आपको उन क्षेत्रों से भी सफलता मिलेगी, जिनसे आपको उम्मीद नहीं थी। विदेशी स्रोतों से भी इस संबंध में आपके संपर्क स्थापित होंगे और आपको अच्छा लाभ मिलेगा। साझेदार के साथ किसी बात को लेकर यदि मतभेद हैं तो खुलकर उनसे बात करें हल अवश्य निकलेगा।

आपके निजी जीवन की बात की जाए तो आपके व्यवहार में जल्दबाजी इस दौरान देखी जा सकती है, जिससे आपके कई काम बिगड़ सकते हैं। आपका यदि विवाह नहीं हुआ है तो इस समय काल में आपको विवाह के योग बन सकते हैं। इस समय आपके व्यक्तित्व में आकर्षण बढ़ेगा और लोग आपसे प्रभावित होंगे।

मिथुन राशि (Gemini)

मिथुन राशि के जातकों के लिए बुध का गोचर उनके छठे भाव में होगा। इस गोचर के दौरान लोगों को मिश्रित परिणाम प्राप्त होंगे। किसी भी क्षेत्र में अच्छे फल प्राप्त करने के लिए आपको कड़ी मेहनत करनी पड़ेगी। आर्थिक पक्ष भी सामान्य रहने की उम्मीद है।

इस अवधि में अगर आप किसी प्रतियोगी परीक्षा में शामिल होने जा रहे हैं, तो इसमें सफल होने के लिए आपको कड़ी मेहनत करनी होगी। इस समय आपको त्वचा और पेट से संबंधित कुछ समस्याएं भी आपको परेशान कर सकती हैं। कुल मिलाकर स्वास्थ्य के प्रति इस दौरान आपको बेहद सजग रहना होगा।

पारिवारिक जीवन की बात करें तो इस दौरान आपकी मां का स्वास्थ नाज़ुक रहने की संभावना है जो आपके लिए चिंता का कारण बन सकता है। इस दौरान किसी भी तरह के संघर्ष या तर्क वितर्क से दूर रहने की कोशिश करें। अन्यथा आप इस दौरान खुद को कानूनी लड़ाई में उलझा सकते हैं।

कर्क राशि (Cancer)

कर्क राशि वालों के लिए बुध ग्रह आपकी राशि से पांचवें भाव में गोचर करेंगे, बुध का यह गोचर कर्क राशि के जातकों के लिए मिले-जुले परिणाम लेकर आएगा। यदि आप जॉब करते हैं तो थोड़ा सावधानी बरतनी चाहिए क्योंकि इस समय काल में आपकी नौकरी जा सकती है।

हालांकि आने वाले समय में शीघ्र ही नौकरी के योग भी बनेंगे। आपके जीवन साथी को भी इस गोचर काल में अच्छा लाभ मिलेगा और यदि कहीं कार्यरत हैं तो उनको नौकरी में प्रमोशन मिल सकता है अथवा किसी अन्य कारणवश उन्हें इस दौरान अच्छे लाभ की स्थिति बन सकती है।

कर्क राशि के शादीशुदा जातकों के पार्टनर को इस समय अवधि में उनके कार्य क्षेत्र में काफी लाभ मिलने की संभावना है। हाँ लेकिन थोड़ा सावधान रहे क्योंकि किसी छोटी सी भी बात पर झड़प या मन मुटाव आप दोनों के बीच समस्याएं पैदा कर सकता है। इसलिए अपने जीवन साथी या प्रियजन के साथ बातचीत के दौरान जितना हो सके नरम और स्पष्ट रहने की कोशिश करें। यदि आप विद्यार्थी हैं तो आपका पढ़ाई में खूब मन लगेगा और नई-नई चीजें सीखेंगे।

सिंह राशि (Leo)

सिंह राशि वालों के लिए बुध ग्रह उनकी राशि से चौथे भाव में गोचर करेंगे। बुध का यह गोचर सिंह राशि के जातकों के लिए कई मायनों में अच्छा रहने वाला है। इस गोचर के दौरान कार्यक्षेत्र में आपको अपनी मेहनत का भरपूर लाभ प्राप्त होगा अर्थात इस दौरान आप जितनी मेहनत करेंगे उसके अनुसार ही आपको फल मिलेगा।

ALSO READ  अशुभ ग्रह के बचाव के लिए अपनाए लाल किताब के ये उपाय...

हालाँकि इस समय आपको कार्यस्थल पर अपने से उच्च अधिकारियों और सहकर्मियों का भरपूर साथ प्राप्त होगा। नवीन काम की शुरुआत करने के लिए यह बुध क ा गोचर उत्तम है। एक ओर आपकी प्रतियोगी क्षमताओं में वृद्धि की सम्भावना है, तो वहीं दूसरी ओर पारिवारिक स्तर पर कुछ समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है।

किन्तु आप अपने बुद्धिबल से सभी समस्याओं का समाधान कर पाने में सक्षम हो सकते हैं। किसी पर भी आँखे बंद करके विश्वास न करे अन्यथा धोखा मिल सकता है। माता-पिता के स्वास्थ्य का ध्यान रखे अन्यथा परिणाम विपरीत भी हो सकते है। छोटी-छोटी यात्राएं आपको करनी पड़ सकती हैं। खर्च बढ़ने के भी आसार हैं।

कन्या राशि (Virgo)

कन्या राशि के जातकों के लिए बुध का यह गोचर उनके तीसरे भाव में होगा। यह गोचर आपको दूसरों को अपने विचारों को स्पष्ट रूप से व्यक्त करने में भरपूर मदद करेगा। जो कि आपके जीवन के व्यक्तिगत और व्यावसायिक दोनों ही क्षेत्रों में सफलता का कारक बनेगा।

इसके अलावा इस राशि के जातक जो मार्केटिंग, सेल्स, और पब्लिक डीलिंग के क्षेत्र में जुड़े हैं उन्हें बुध का यह गोचर लाभ दिलाएगा। आपको अचानक से आने वाली यात्राओं से बचना चाहिए क्योंकि इससे आपको आर्थिक और शारीरिक दोनों समस्याएं हो सकती हैं इसलिए यात्राओं का त्याग करें।

एक ओर आपके भाई बहनों के लिए यह समय अधिक अनुकूल नहीं होगा और इस समय में उन्हें कुछ परेशानी हो सकती है लेकिन यही समय आपके लिए काफी फ़ायदेमंद हो सकता है क्योंकि आपकी आमदनी में भी बढ़ोतरी होगी। यदि आप शादीशुदा हैं तो आपकी संतान को इस गोचर का बहुत अच्छा लाभ मिलेगा और वे जिस भी क्षेत्र में हैं, उन्हें उत्तरोत्तर वृद्धि प्राप्त होगी। यह गोचर पारिवारिक वातावरण में ख़ुशियाँ और आनंद लेकर आएगा।

तुला राशि (Libra)

तुला राशि वालों के लिए बुध ग्रह आपकी राशि से दूसरे भाव में गोचर करेंगे। बुध देव आपके ऊपर अपनी शुभ दृष्टि डालते हुए आपकी हर परेशानी को दूर तो करेंगे ही साथ ही आपको और बेहतर प्रदर्शन करने के लिए भी प्रोत्साहित करेंगे। इस दौरान आपकी वाणी में मधुर और प्रभावशाली रहेगी।

साथ ही आप अपनी संवाद शैली के द्वारा दूसरों को प्रभावित करने में सक्षम होंगे। ये समय आपके लिए धन लाभ भी लेकर आया है। इसलिए इस शुभ समय का अच्छा लाभ उठाने का निरंतर प्रयास करते रहें। इस गोचर के दौरान आपको धन की अच्छी आमदनी होगी। आपको विदेशी कनेक्शन से लाभ या कोई अच्छी खबर मिलने की संभावना है। हालांकि इस गोचर के दौरान आपको कुछ खर्चे भी करने पड़ सकते हैं।

वृश्चिक राशि (Scorpio)

वृश्चिक राशि के लोगों के लिए यह गोचर आपकी ही राशि में होने जा रहा है। वृश्चिक जातकों को इस गोचर के मिश्रित परिणाम मिलने की संभावना है। इस दौरान आप जो निर्णय लेंगे, वे भविष्य में आपके लिए काफी महत्वपूर्ण साबित होंगे। हालांकि आपको अति आत्मविश्वास का शिकार होने से बचना चाहिए और किसी से भी उल्टी-सीधी बात करने से बचना चाहिए।

इस गोचर काल में आपको भाई बहनों का सहयोग पूरी तरह प्राप्त होगा और वे आपको हर संभव सहायता देंगे और उनका स्नेह भी बना रहेगा।  इस समय के दौरान आप खुद को कुछ अधिक पूर्णतावादी और आलोचनात्मक भी महसूस कर सकते हैं, जिससे आपके व्यक्तिगत और व्यावसायिक दोनों ही जीवन में कुछ समस्याएं खड़ी हो सकती हैं। यह गोचर अच्छा रहेगा लेकिन आपको किसी पर व्यंग करने से बचना चाहिए।

ALSO READ  ग्रहों में छिपा है कष्टों राज,जानें ? कौन सा ग्रह किस रोग को देता है आंमत्रण

धनु राशि (Sagittarius)

धनु राशि वालों के लिए बुध ग्रह उनकी राशि से बारहवें भाव में गोचर करेंगे। आपके आय के साधनों में वृद्धि होगी, खर्च की अधिकता रहेगी, लेकिन यह खर्च आप भौतिक सुखों की प्राप्ति के लिए करेंगे। इस दौरान प्रत्येक निर्णय सोच-समझ कर लें। जल्दबाजी में लिया गया निर्णय आपके लिये हो सकता है हितकर न हो।

जो लोग मल्टीनेशनल मल्टीनेशनल कंपनी में काम कर रहे हैं या विदेश में अपना करियर बनाना चाहते हैं उन्हें इस गोचर के दौरान शुभ फल मिलने के प्रबल आसार हैं। जीवन साथी को स्वास्थ्य संबंधी कुछ परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। जिसकी वजह से आपको तनाव या चिंता होने की आशंका है। इस समय किसी लम्बी यात्रा के भी योग बन रहे हैं, कर्ज की स्थिति से बचना होगा, शत्रुपक्ष पर प्रभाव बना रहेगा।

मकर राशि (Capricorn)

मकर राशि वालों के लिए बुध ग्रह उनकी राशि से ग्यारहवें भाव में गोचर करेंगे। यह गोचर मकर राशि के जातकों के लिए शुभ परिणाम लेकर आएगा। मकर राशि के लोगों के लिए बुध का यह गोचर कई सौगातें लेकर आएगा। यदि आप आयात-निर्यात से संबंधी कार्य या बिजनेस करते हैं तो इस गोचर के दौरान आपको अच्छा लाभ हो सकता हैं। आपकी कामनाओं की पूर्ति इस दौरान होगी।

इस राशि के कई जातकों को इस समय अपने पिता और सरकार से लाभ की प्राप्ति हो सकती है। आपके पिता का सहयोग आपको कई परेशानियों से इस दौरान बचा सकता है। हालांकि आपके निजी जीवन की बात की जाए तो आप अपने फायदे के लिए नापतोल करते इस समय नजर आ सकते हैं। यदि आप अपने व्यवहार से अहंकार को कम कर दें तो इस दौरान सामाजिक जीवन में आपको मान-सम्मान की प्राप्ति होगी।

कुंभ राशि (Aquarius)

कुम्भ राशि के जातकों के दशवें भाव में बुध ग्रह का गोचर होगा। जो कई मायनों में शुभ रहेगा। आर्थिक रूप से यह गोचर आपके लिए काफी लाभदायक सिद्ध हो सकता है। इस दौरान आपके मान-सम्मान में भी बढ़ोत्तरी हो सकती है। प्रॉपर्टी में निवेश और शेयर बाजार में पैसा लगाना फायदेमंद साबित होगा|

कार्यक्षेत्र में आपकी पदोन्नति हो सकती है, या आप अभी तक जिस प्रोजेक्ट पर काम कर रहे हैं, उसमें बेहतरीन सफलता प्राप्त हो सकती है। सामाजिक स्तर पर देखें तो इस दौरान आपके मान-सम्मान में भी बढ़ोत्तरी होगी। इस दौरान आपकी बुद्धि का स्तर बढ़ेगा और कार्यस्थल में आपके प्रदर्शन में काफी वृद्धि होगी।

आप अपने जीवन साथी के रिश्तों में मधुरता पाएंगे। इस दौरान आपके प्यार में वृद्धि होगी, इसके अलावा आपको अपने साथी से अच्छा सहयोग मिलने की संभावना है, जो आप दोनों के बीच के बंधन को और मजबूत बनाने में आपकी भरपूर मदद करेगा।

मीन राशि (Pisces)

मीन राशि वालों के लिए बुध ग्रह उनकी राशि से नवमें भाव में गोचर करेंगे। करियर के लिहाज से इस समय आपको अपने वरिष्ठ अधिकारीयों का अच्छा समर्थन मिलने की उम्मीद है। जिससे आपको अपने करियर में अच्छी दिशा पाने में मदद मिलेगी।  व्यावसायिक रूप से इस समय के दौरान आपके सामने कई ऐसे मौके आएँगे जिससे आपके आय के स्रोत बढ़ेंगे।

इस दौरान आप चल-अचल संपत्ति में निवेश कर सकते हैं। यह निवेश आपके लिए सकारात्मक परिणाम लेकर आएगा। धर्म और आध्यात्मिक विषयों में आपकी रुचि बढ़ेगी, धार्मिक कार्यों में इस दौरान आप हिसा ले सकते हैं। पारिवारिक स्तर पर देखें तो इस गोचर काल में आपकी और आपके पिता की सेहत कुछ खराब हो सकती है।