Gems & Stones

जानें कब और कैसे धारण करें पन्ना रत्न…

78views

जानें पन्ना रत्न पहनने के फायदे और नुकसान

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार,जीवन में आ रही कई परेशानियों को दूर करने के लिए रत्न धारण करने की सलाह दी जाती है, जिसे कुंडली में मौजूद ग्रहों की स्थिति के अनुसार धारण किया जाता है.पन्ना बुध ग्रह का रत्न माना जाता है और इसे धारण करने के कई फायदे हैं.ज्योतिष शास्त्र में ग्रहों की स्थिति नियंत्रित करने और कई समस्याओं के समाधान के लिए रत्न धारण करने के बारे में वर्णन मिलता है परंतु बिना जानकार की सलाह से इन रत्नों को पहनना आपके लिए नुकसानदायक भी हो सकता है.इससे आपके जीवन पर कई नकारात्मक प्रभाव देखने को मिल सकते हैं. पन्ना रत्न के बारे में.ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, यह बुध ग्रह का रत्न माना जाता है. इस रत्न को कौन धारण कर सकता है, कौन नहीं और इसके क्या फायदे हैं आइए जानते हैं।

ALSO READ  जानें,रोग के हिसाब से कौन से रत्न पहनना चाहिए...

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, पन्ना बुध ग्रह का रत्न माना जाता है और बुध ग्रह वाणी, बुद्धि, व्यापार, बहन, मौसी और बुआ का कारक ग्रह होता है. यह रत्न मुख्यत: 5 रंगों में उपलब्ध होता है.तोता पंखी हरा, पानी जैसा रंग, मोरपंखी रंग, सरेस के फूल जैसा रंग और हल्के संदुल के फूल जैसा रंग।

किसे धारण करना चाहिए पन्ना?
ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, जिसकी लग्न कन्या या मिथुन है, वह जातक पन्ना रत्न धारण कर सकता है, परंतु यह देखना आवश्यक होता है कि लग्न में कौन सा ग्रह है या लग्न के सामने सप्तम भाव में कौन सा ग्रह है।

ALSO READ  जानिए,मोती रत्न पहनने के नुकसान...

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, यदि किसी जातक की कुंडली में बुद्ध की महादशा या अंतर्दशा चल रही हो, बुध ग्रह 8वें या 12वें भाव में नहीं हो, तो वह व्यक्ति पन्ना रत्न धारण कर सकता है।

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, यदि किसी जातक की कुंडली में बुध, मंगल, शनि, राहु या केतु के साथ स्थित हो या उस पर शत्रु ग्रहों की दृष्टि हो, तो पन्ना रत्न धारण किया जा सकता है. इससे नौकरी और व्यवसाय में आ रही समस्या दूर होगी।

किसे नहीं धारण करना चाहिए पन्ना?

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, पन्ना धारण करने के पहले ज्योतिषी से परामर्श लेना अत्यंत आवश्यक है।

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, जिस व्यक्ति की कुंडली में 6वें, 8वें और 12वें भाव का स्वामी बुध है, उसे पन्ना रत्न नुकसान पहुंचा सकता है.
जिस जातक की कुंडली में बुध की महादशा चल रही है, बुद्ध 8वें या 12वें भाव में बैठा है, तो उस व्यक्ति को पन्ना रत्न धारण करने से बचना चाहिए.

ALSO READ  जानिए मूंगा रत्न के फ़ायदे और नुकसान

पन्ना धारण करने के फायदे
-ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, पन्ना बुध का रत्न होता है. इसे धारण करने से ना सिर्फ स्मरण शक्ति बढ़ती है, बल्कि बुद्धि भी तेज होती है।

-नौकरी और व्यापार में उन्नति के लिए भी पन्ना रत्न धारण करने की सलाह दी जाती है।

-पन्ना रत्न धारण करने से वाणी प्रभावशाली होती है।

-ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, पन्ना पहनने से अन्न-धन में वृद्धि होती है और सुयोग्य संतान प्राप्त होती है।