astrologerAstrology

करियर बनाने के लिए ज्योतिष के करें ये उपाय ?

149views

करियर बनाने के लिए ज्योतिष के करें ये उपाय

 

करियर चुनते समय जरूरी है कि पहले उसके लिए आत्मनिरीक्षण कर लिया जाए। आप क्या चाहते हैं ये जानने के बाद सोच को पूरी तरह से विकसित करना थोड़ा और आसान हो जाता है। अपना करियर कैसे चुनें का जवाब जानना तब और आसान हो जाता है जब आत्मनिरीक्षण के समय हम कुछ सवालों के जवाब जान लेते हैं। आपको कुछ सवालों के जवाब जरूर देने चाहिए जैसे मेरी मेरे करियर से क्या अपेक्षा है? मेरी रुचि क्या हैं? वो एक्टिविटीज क्या हैं जिन्हें करना हमें अच्छा लगता है और जिन्हें करियर भी बनाया जा सकता है? आदि। इन सवालों के जवाब देने के बाद जरूर आपके पास कुछ विकल्प तो होंगे ही जिनके साथ अपना करियर कैसे चुनें का जवाब जानना थोड़ा तो आसान हो ही जाएगा।

अपना करियर बनाने के लिए इन steps को follow करें

1) अपनी पढ़ाई ख़त्म करें;

अपना करियर बनाने के लिए सबसे पहले आप को अपनी पढ़ाई अच्छे से खत्म करनी होगी| दसवीं या बारवी कक्षा के मार्क्स के बेसिस पे आप को अपना करियर चुनना होता है| इसलिए कम से कम दसवीं तक अपनी पढ़ाई पूरी कीजिए|

2) सही क्षेत्र (Field) को चुनना:

पढ़ाई ख़त्म होने के बाद अपने पसंद ना पसंद को जानकार, अपने टैलेंट और क्षमताओं (Abilities) को पहचानकर ही आप अपना करियर चुने| वैसे तो हमारे देश में पढ़ाई के बाद आपके पास डॉक्टर, इंजीनियर, वकील, चार्टड अकाउंटेंट (CA), डिप्लोमा, आईटीआई, बिजनेस  मैनेजमेंट, फैशन टेक्नोलॉजी ये कुछ कॉमन करियर ऑप्शन्स मौजूद होते है|
लेकिन आज जमाना बदल चूका है और आज आप डिजिटल मार्केटिंग, सोशल मीडिया इन्फ्लुएंसर, एफिलिएट मार्केटिंग, ग्राफ़िक डिजाइनिंग, ट्रेनिंग एंड कंसल्टिंग, वेब डेवलपमेंट जैसे क्षेत्र में भी अपना करियर बना सकते हो लेकिन इसके लिए आप को उस फील्ड से संबंधित कुछ ज़रूरी स्किल्स को सीखना होगा|

ALSO READ  घर-परिवार में हुई हो अकाल मृत्यु तो करा लें यह पूजा, नहीं तो पीढ़ियां होंगी परेशान! जानें इसकी विधान

3) करियर की शुरुवात:

आप अपना करियर किसी भी क्षेत्र में बनाओ पर आप को शुरुवाती दिनों में थोड़ी बहुत कठिनाई आ सकती है क्योंकि पढ़ाई के बाद करियर की शुरुवात में आप को नयी नयी चीज़ों का सामना करना पड़ता है तो ऐसे में आप को अपने ऊपर आत्मविश्वास रख कर हर चीज़ को बारीकी से समझना है, उस क्षेत्र से संबंधित ज़रूरी चीज़ों को सीखकर अपने अनुभव को बढ़ाना है

4) कैरियर का लक्ष्य (Career Goal):

चाहे आप जॉब करो, बिजनेस  करो याफिर किसी और प्रोफेशन में अपना करियर बनाओ लेकिन आप को अपना एक career    बनाना है और उस हिसाब से योजना बनाकर अपने करियर में आगे बढ़ना है| जैसे की मानलो की आप किसी कंपनी में किसी position पर काम कर रहे हो तो आने वाले कुछ सालों में आप उस जॉब में higher position पर कैसे पहुँच सकते हो और उसके लिए आप में कौन कौनसी qualities होनी ज़रूरी है इसके बारे में सोचो और उस हिसाब से अपने आप को बेहतर बनाने की कोशिश करो|
वैसे ही अगर आप कोई बिजनेस कर रहे हो तो आने वाले कुछ सालों में आप अपने बिजनेस को कितना आगे ले जाना चाहते हो और उसके लिए आप को कौन कौनसी चीज़ें करनी पड़ेंगी इसके बारे में सोचो और उनपर काम करो|

ALSO READ  शादी में आ रही है अड़चने , तो हो सकती पितृ दोष ? जानिए ...

5)करियर में आपका प्रदर्शन;

अगर आप को अपने करियर में आगे बढ़ना है तो आप को अपने करियर में अच्छा प्रदर्शन यानिकि performance देना होगा| इसके लिए आप को कुछ चीज़ों पर काम करना होगा जैसे की अपने ऊपर जिस भी काम की जिम्मेदारी दी गयी है उसे अच्छे से निभाना होगा, अपने काम से ईमानदार रहना होगा, आत्मविश्वासी होना होगा, अपने काम में माहिर होना होगा, समय समय पर नए स्किल्स को सीखना होगा, टीम वर्क में काम करना होगा, कम्युनिकेशन और लीडरशिप जैसी स्किल्स को improve करना होगा, रचनात्मक सोच (Creative thinking) रखनी होगी, अपनी strengths को पहचानना होगा और साथ ही साथ अपनी कमजोरियों पर काम करना होगा|
याद रखो अगर आप वक़्त के साथ अपने आप पर काम नहीं करोगे, अपने आप को improve नहीं करोगे तो करियर में आपका performance कभी भी पहले से बेहतर नहीं हो पायेगा और फिर आप अपने करियर में औरों के मुकाबले कही न कही पीछे रह जाओगे|

6) करियर बदलना:

ALSO READ  पितृ दोष से आती है शादी और नौकरी में बाधाएं,जानिए इसके निदान...

कभी कभी हमारे सामने ऐसी परिस्थिति भी आ सकती है जहा पर की हमें अपना करियर बदलना पड़े| ये किसी भी कारण से हो सकता है जैसे की आपने जिस field में अपनी पढ़ाई पूरी की है उस field में ज्यादा opportunities न होने के कारण, आप को किसी और field में काम करने की इच्छा होने के कारण या फिर आप जो काम कर रहे हो उससे ऊब जाने के कारण ऐसे और भी कई सारे कारण हो सकते है|
लेकिन याद रखो करियर बदलना थोड़ा रिस्की हो सकता है जल्दबाजी में निर्णय मत लो, करियर बदलने के चक्कर में जॉब वगैरह एकदम से मत छोडो बल्कि जॉब के साथ साथ नए करियर की शुरुवात करो और जब नया करियर अच्छे से सेट हो जाये और आप को उसमे जॉब से भी ज्यादा इनकम होने लगे तो आप पुरानी जॉब को छोड़ सकते हो|
आप अपना करियर बदलकर जिस भी नए करियर को अपनाना चाहते हो उसकी पहले से ही अच्छे से जानकारी लो, नए करियर के लिए आप को कौन कौनसी चीज़ें सीखनी पड़ेंगी इसके बारे में जानो और उन चीज़ों को सीखो, नए करियर में आप को कौन कौनसी कठिनाईयां आ सकती है, आप नए करियर में कैसे आगे बढ़ सकते हो उसके बारे में जानो, उस field के एक्सपर्ट की सलाह लो और एक योजना के साथ आगे बढ़ो|