Astrology

रोज-रोज होते है पति-पत्‍नी के बीच झगड़े तो ,अपनाए ये ज्‍योतिष तरीका

248views

                                   रोज-रोज होते है पति-पत्‍नी के बीच झगड़े तो ,अपनाए ये ज्‍योतिष तरीका

Astro Remedies for Good Relationship: पति-पत्‍नी के बीच झगड़े होना आम बात है लेकिन जब ये झगड़े रोज-रोज होने लगें तो इनसे बचने का उपाय खोजना जरूरी है. वरना रिश्‍ते में गहरी दरार पड़ सकती है.व्‍यस्‍त दिनचर्या में पति-पत्‍नी सुकून से एक-दूसरे के साथ ज्‍यादा वक्‍त नहीं गुजार पाते हैं. समय की कमी और कई कारणों के चलते उनके बीच गलतफहमियां भी पैदा हो जाती हैं. ऐसे में पति-पत्‍नी के बीच रोजाना झगड़े होने लगते हैं, जो उनके रिश्‍ते को कमजोर करते हैं. कई बार ये झगड़े पति-पत्‍नी के बीच इतनी गहरी दरार डाल देते हैं कि उसे पाटना मुश्किल हो जाता है. ऐसे में ज्‍योतिष के कुछ प्रभावी उपाय कर लेना चाहिए, जो पति-पत्‍नी के रिश्‍ते में प्‍यार-भरोसा बढ़ाने और उसे मजबूत बनाने में मददगार साबित होते हैं।

ALSO READ  श्री महाकाल धाम में महाशिवरात्रि के दुर्लभ महायोग में होगा महारुद्राभिषेक

बेहतर करेंगे ये उपाय
ज्‍योतिष शास्‍त्र में पति-पत्‍नी के बीच प्रेम बढ़ाने, उनके दांपत्‍य जीवन को बेहतर बनाने के उपाय बताए गए हैं. यदि इन उपायों को अपनाया जाए तो कुछ ही समय में फर्क नजर आने लगता है.

– ज्‍योतिष शास्‍त्र के मुताबिक पति-पत्‍नी के बीच रोज-रोज झगड़ें हों तो भगवान शिव और माता पार्वती की एक साथ बैठकर पूजा करें. घी का दीपक जलाएं. शिव चालीसा पढ़ें और अपने रिश्‍ते को बेहतर करने की प्रार्थना करें.

– अच्‍छे दांपत्‍य जीवन के लिए कुंडली में गुरु ग्रह का शुभ स्थिति में होना जरूरी है. यदि ऐसा न हो तो रिश्‍ते में मधुरता नहीं रहती है और उतार-चढ़ाव, समस्‍याएं बनी रहती थीं. ऐसे में गुरु को मजबूत करने के लिए हल्दी का 7 गांठ लें और उन्हें पीले धागे में बांध लें. फिर इन्‍हें दाएं हाथ में रखकर भगवान विष्णु के मंत्र ‘ॐ नमो भगवते वासुदेवाय’ मंत्र का कम से कम 21 बार जाप करें. ये जाप आप सात, ग्यारह या इक्कीस बार कर सकते हैं. फिर गांठ को मंदिर में जाकर भगवान विष्णु को अर्पित कर दें. भगवान विष्‍णु से सुखद दांपत्‍य देने की प्रार्थना करें.

ALSO READ  श्री महाकाल धाम में महाशिवरात्रि के दुर्लभ महायोग में होगा महारुद्राभिषेक

– भगवान विष्‍णु और माता लक्ष्‍मी की कृपा जीवन में सुख-समृद्धि देती है. साथ ही इनकी एक साथ पूजा करने, दर्शन करने से दांपत्‍य जीवन बेहतर होता है. हर शुक्रवार को विष्‍णु जी और लक्ष्‍मी जी की पूजा करें।