astrologerAstrologylove problem

सच्चा प्यार पाने का ये रहा ज्योतिष उपाय

318views

सच्चा प्यार पाने का ये रहा ज्योतिष उपाय

क्या आपको अब तक नहीं मिला है सच्चा प्यार? जारी है सच्ची मोहब्बत की तलाश? तो फिर आपको ज्योतिष शास्त्र में बताए गए कुछ उपाय करने की आवश्यकता है। ज्योतिष विज्ञान में बताए गए सच्चे प्यार को पाने के उपाय आसान जरूर हैं लेकिन ये उपाय असरदार हैं। हालांकि इससे पहले हम ज्योतिष और प्रेम के बीच क्या संबंध है इसके विषय में थोड़ी चर्चा कर लेते हैं।निरंतर रंग बदलती इस दुनिया में हर कोई एक सच्चे हमसफर की तलाश में है। विशेष तौर पर युवाओं की यह चाहत होती है कि उन्हें सच्चा प्यार करने वाला जीवनसाथी मिले जिससे वो अपने सुख-दुख बांट सकें। लेकिन यह देखा जाता है कि कलियुगी दुनिया में लोग प्यार की पवित्रता को भूलते जा रहे हैं और स्वार्थ के लिए प्रेम करते हैं।

ALSO READ  श्री महाकाल धाम अमलेश्वर में पूजा और उत्सव समिति का  प्रमुख संयोजक राज विक्रम जी को नियुक्त किए जानें की बधाई...

ऐसे में लोग अक्सर हताश महसूस करते है। ज्योतिष शास्त्र में कुछ ऐसे उपाय बताए गए हैं जिन्हें करने से सच्चा प्यार मिलने की मान्यता है। माना जाता है कि यह उपाय बहुत कारगर होते हैं। इनसे प्रेम के रास्ते में आने वाली सभी अड़चनें दूर होती हैं।

ज्योतिष के अनुसार सच्चा प्यार पाने के 10 उपाय

  1. अपनी कुंडली में शुक्र ग्रह को बलवान करें।
  2. कुंडली के पंचम भाव की मजबूत करें।
  3. शुक्रवार के दिन मां लक्ष्मी की पूजा करें।
  4. गौरी-शंकर रुद्राक्ष धारण करें।
  5. हीरा रत्न धारण करें।
  6. महिलाएं सोहल सोमवार का उपवास करें।
  7. पंचम भाव के स्वामी ग्रह को बली करें।
  8. शुक्रवार को पार्टनर को गुलाबी वस्तुएं गिफ्ट में दें।
  9. अपने लव पार्टनर से शुक्रवार के दिन जरुर मिलने का प्रयास करें।
  10. जन्म कुंडली में कालसर्प दोष की शांति के लिए उपाय करें।
ALSO READ  श्री महाकाल धाम में महाशिवरात्रि के दुर्लभ महायोग में होगा महारुद्राभिषेक
ज्योतिष शास्त्र के अनुसार प्रेम संबंध
ज्योतिष विज्ञान में शुक्र ग्रह को प्रेम, रोमांस और काम-वासना का कारक माना जाता है। अगर कुंडली में ये ग्रह मजबूत स्थिति में है तो व्यक्ति का प्रेम जीवन खुशहाल बना रहेगा। परंतु इसके विपरीत अगर कुंडली में शुक्र ग्रह कमजोर है तो उसके प्रेम जीवन में समस्याएं आएंगी।
कुंडली का पंचम भाव से देखा जाता है प्रेम
इसके बाद कुंडली का पांचवां भाव भी प्रेम और रोमांस के विषय में बतलाता है। अगर कुंडली में ये भाव कमजोर है तो फिर व्यक्ति को उसका सच्चा प्यार मिलना संभव है। लेकिन अगर कुंडली पांचवां भाव बलवान है प्रेम जीवन में परिस्थितियां बहुत ही अनुकूल होती हैं।

जरा इसे भी पढ़ें :- 

नहीं लगता काम में मन ? तो आजमाएं ये उपाय

ALSO READ  6 अप्रैल 2024 को देशभर के विख्यात ज्योतिषियों, वास्तु शास्त्रियों, आचार्य, महामंडलेश्वर की उपस्थिति में होगा भव्य आयोजन

 रोग से मुक्ति पाने के लिए करें ये शानदार उपाय

Career से जुड़ी हर समस्या होगी दूर,बस करें ये ?

business में तरक्की के लिए आजमाएं ये उपाय…

शनि को खुश करने के लिए ये रहा शानदार उपाय …