AstrologyHealth Astrologyउपाय लेख

चक्कर क्यों आती हैं ? जानिए वजह

232views

चक्कर क्यों आती हैं ? जानिए वजह

चक्कर आना एक आम समस्या है। लेकिन, बार-बार इस तरह की परेशानी होने पर इसे नजरअंदाज करना नुकसानदायक हो सकता है।चक्कर आना या सिर घूमना बहुत आम बात है।

इसके कई कारण हो सकते हैं जैसे कि ज्‍यादा समय भूखे पेट रहना, कमजोरी या अन्‍य कोई वजह जिसकी वजह से आप अचानक बेहोश गिर पड़ते हैं। वैसे कई बार तो चक्‍कर ज्‍यादा देर बैठे रहने के बाद अचानक उठने पर भी आते हैं, जिसमें आपको लगता है मानो पूरी धरती गोल-गोल घूम रही हो। इसके पीछे का सबसे बड़ा कारण है ब्रेन में ब्लड सर्कु लेशन सही से न होना।

ALSO READ  राहु-मंगल की युति से जातकों के जीवन में होती हैं ऐसी कई घटनाएँ...

अचानक और बार-बार चक्‍कर आने की स्थिति को नजरअंदाज नहीं करना चाहिए। ऐसे में आप अपने घर पर रखी कुछ चीजों का इस्‍तेमाल कर उपचार कर सकते हैं।चक्कर आने पर तुलसी के रस में चीनी मिलाकर सेवन करने से या तुलसी के पत्तों में शहद मिलाकर चाटने से चक्कर आना बंद हो जाता है।

धनिया-आंवला पाउडर
चक्कर आने पर धनिया पाउडर दस ग्राम तथा आंवले का पाउडर दस ग्राम लेकर एक गिलास पानी में भिगो कर रख दें। सुबह अच्छी तरह मिलाकर पी लें। इससे चक्कर आने बंद हो जाते है।

खरबूजे के बीज
खरबूजे के बीजों को पीसकर घी में भुन लें। अब इसकी थोड़ी थोड़ी मात्रा सुबह शाम लें, इससे चक्कर आने की समस्या में बहुत लाभ होता है।सिर चकराने पर आधा गिलास पानी में दो लौंग डालकर उसे उबाल लें और फिर उस पानी को पी लें।

ALSO READ  श्री महाकाल धाम अमलेश्वर में 27,28,29 मई को होगा महा यज्ञ...

इस पानी को पीने से लाभ मिलता है।जिन लोगों को चक्कर आते हैं उन्हें दोपहर के भोजन के 2 घंटे पहले और शाम के नाश्ते में फलों का जूस पीना चाहिए। रोजाना जूस पीने से चक्कर आने बंद हो जाएंगे। लेकिन ध्यान रखें कि जूस में किसी प्रकार का मीठा या मसाला नहीं डालें सदा जूस पियें। जूस की जगह चाहें तो ताजे फल भी खा सकते हैं।चाय और कॉफी कम पीनी चाहिए। अधिक चाय -कॉफी पीने से भी चक्कर आते हैं।