Other Articles

रसोई में इन बातों का रखें ध्यान तो, परिवार में बनी रहेगी सुख शांति और समृद्धि…

71views

रसोई में इन बातों का रखें ध्यान तो, परिवार में बनी रहेगी सुख शांति और समृद्धि…

 

Vastu tips for home : घर का जो किचन होता है वो बहुत महत्वपूर्ण हिस्सा होता है. यहीं से पूरे परिवार का स्वास्थ्य अच्छा होगा या खराब तय होता है. किचन की साफ सफाई में जरा सी भी लापरवाही सेहत को बिगाड़ सकती है. और जब घर के आधे से ज्यादा लोगों की सेहत बिगड़ी हुई रहे तो परिवार की आर्थिक स्थिति पर भी बुरा असर पड़ता है. इसलिए आज हम आपको यहां पर कुछ ऐसे वास्तु टिप्स vastu for kitchen बताने जा रहे हैं जिसको घर की महिलाओं को किचन में खाना पकाने से पहले जरूर ध्यान में रखना चाहिए.

किचन में किन बातों का रखें ध्यान

  • भोजन पकाने से पहले महिलाओं को स्नान जरूर कर लेना चाहिए. बिना नहाए खाना पकाना अच्छा नहीं माना जाता है. वहीं आप तवे की पहले रोटी गाय को खिलाएं और अंतिम कुत्ते को खिलाना चाहिए.
  • वहीं, गुस्से में अन्न को कभी पकाना नहीं चाहिए. अपने मन को शांत और संयमित रखें भोजन पकाते समय. इससे अन्न देव प्रसन्न होते हैं. वहीं, खाना पकाने के बाद किचन को अच्छे से साफ कर लीजिए जूठे बर्तन बिल्कुल भी ना छोड़ें किचन में. वहीं, गंदगी में कभी भी खाना ना पकाएं.
  • अक्सर यदि कोई बर्तन थोड़ा बहुत चटक या टूट जाए तो हम उसे रसोई में इस्तेमाल करते रहते हैं लेकिन क्या आपको पता है कि इससे आपकी आर्थिक स्थिति में नकारात्मक प्रभाव पड़ सकता है। माना जाता है कि इससे घर के मुखिया के ऊपर कर्ज की स्थिति और परिवार में मतभेद का सामना करना पड़ सकता है। इसलिए वास्तु कहता है कि टूटे और चटके बर्तनों को रसोई में बिलकुल नहीं रखना चाहिए।
  • रसोई घर में कभी भी डस्टबिन नहीं रखना चाहिए. वहीं, पानी और चू्ल्हे को आस पास रखना ठीक नहीं होता है, यह भी वास्तु दोष का कारण बन सकती है.इसके अलावा रसोईघर में पूजा स्थान ना बनाएं. यह भी ठीक नहीं होता है. वहीं, रसोई के बगल में बाथरूम और वॉशरूम कभी नहीं बनाना चाहिए.
  • सिंक और चूल्हे एक स्लैब पर ना हो और गैस स्टोव खिड़की के नीचे ना रखें. यह भी एक तरह से वास्तु दोष उत्पन्न कर सकता है. वहीं, आप जब भी भोजन की थाली किसी को दें तो दोनों हाथ से पकड़ के दीजिए. एक हाथ से थाली देने से उसमें भूत प्रेत का वास होता है. इसके अलावा आप जब भी खाना पकाएं तो पहले अग्नि देव को समर्पित करें.
  • वैसे तो रसोई में जूते-चप्पल का स्थान कोई नहीं बनाता है लेकिन कई बार हम रसोई में जूते-चप्पल पहनकर प्रेवश कर लेते हैं लेकिन ऐसा नहीं करना चाहिए क्योंकि यह मां अन्नपूर्णा का स्थान होता है। इससे आपके घर मेें तंंगी का सामना करना पड़ सकता है। इसके अलावा आपके जूते-चप्पलों के साथ आए बैक्टीरिया रोगों का कारण भी बनते हैं।