astrologer

13 अक्टूबर को होगा दूसरा विराट ज्योतिष सम्मेलन,श्री महाकालधाम अमलेश्वर

14views

अमलेश्वर के श्री महाकालधाम में जुटेंगे देशभर के विख्यात ज्योतिषी

……………….

 निशुल्क जन्मपत्री निर्माण के साथ होगा ज्योतिष विभूतियों का सम्मान

……………….

रायपुर। रायपुर के अमलेश्वर स्थित श्री महाकालधाम में 13 अक्टूबर 2024 को विराट ज्योतिष सम्मेलन का आयोजन होने जा रहा है। जिसमें देशभर के सभी विख्यात ज्योतिषी, वास्तु शास्त्री, आचार्य, महामंडलेश्वर और महंत बड़ी संख्या में शामिल होंगे। श्री महाकाल धाम अमलेश्वर के सर्वराकार पंडित प्रियाशरण त्रिपाठी ने बताया कि इस भव्य और दिव्य आयोजन में सभी प्रसिद्ध पुरोहित, संत, आचार्य, वास्तु, ज्योतिष, अंकशास्त्र, हस्त सामुद्रिक, टैरो, फेंगशुई के विशेषज्ञ अपना व्याख्यान प्रस्तुत करेंगे। साथ ही इस सम्मेलन में ज्योतिषगण ज्योतिष भास्कर, ज्योतिष शिरोमणि, ज्योतिष सम्राट और ज्योतिष भूषण की उपाधि से सम्मानित किए जाएंगे। कर्मकांड के प्रखर विद्वानों को संत, राजर्षि, देवर्षि तथा ब्रम्हर्षि की मानद उपाधि से सम्मानित किया जाएगा। पं. त्रिपाठी के मुताबिक देश के विभिन्न हिस्सों से आने वाले कई विधाओं की विभूतियों को लाइफ टाइम एचीवमेंट सम्मान से अलंकृत किया जाएगा।

ALSO READ  पुत्र और धन प्राप्ति के लिए करें पार्थिव शिवलिंग का पूजा...

निःशुल्क जन्मपत्री बनेगी

विराट ज्योतिष सम्मेलनमें राज्य के साथ ही देश के अन्य जगहों से पधारे ख्यातिप्राप्त ज्योतिषियों निःशुल्क जन्मपत्री निर्माण करने के साथ ज्योतिष परामर्श भी करेंगे। इस एक दिवसीय ज्योतिष सम्मेलन में विद्वान, ज्योतिषियों, वास्तु शास्त्रियों, आचार्यों महामंडलेश्वरों महंतों की उपस्थिति में यहां आने वाले लोगों की निजी समस्या और सवालों का समाधान किया जाएगा। साथ ही ज्योतिष और कर्मकांड को लेकर उनके हर प्रश्न का समाधान किया जाएगा। ज्योतिष सम्मेलन सुबह 10 बजे से लेकर रात्रि के 8 बजे तक चलेगा। इस दौरान श्री महाकाल धाम मंदिर के गर्भ गृह में भगवान श्री महाकाल का पूजन अभिषेक सभी के लिए निःशुल्क होगा। एक ही मंच पर ज्योतिष के माध्यम से लोगों की निजी समस्याओं के निराकरण का प्रयास देश के प्रख्यात ज्योतिषविद के द्वारा किया जाएगा।
6 अप्रैल 2024 को हुआ था पहला विराट ज्योतिष सम्मेलन
छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में पवित्र पावन खारुन नदी के तट पर अमलेश्वर में स्थित है श्री महाकाल धाम। जहां 6 अप्रैल 2024 को प्रदेश का पहला विराट ज्योतिष सम्मेलन का भव्य और दिव्य आयोजन हुआ था। इस ज्योतिष सम्मेलन में देश के 200 से ज्यादा ख्यातिप्राप्त ज्योतिर्विद शामिल हुए थे। जिनका उनके विषयों और दक्षता और अनुभव के आधार पर प्रमाण पत्र से सम्मानित किया गया था , साथ ही छत्तीसगढ़ के साथ ही 21 ज्योतिष मनीषियों को शाल, श्रीफल और स्मृति चिन्ह के साथ प्रमाणपत्र देकर सम्मानित किया गया था।

ALSO READ  श्री महाकाल धाम अमलेश्वर में 27,28,29 मई को होगा महा यज्ञ...

आस्था का शिवलोक श्रीमहाकालधाम

श्री महाकाल धाम अमलेश्वर छत्तीसगढ़ का सुप्रसिद्ध शिवलोक है। यहां भगवान स्वयंभू शिवलिंग के दिव्य दर्शन करने के साथ भक्त श्रीगणेश भगवान, मां दुर्गा प्रतिमा का दर्शन करते हैं। साथ ही शनिदेव की पूजा भी होती है। श्री महाकालधाम में पिछले 20 वर्षों से पलाश विधि के द्वारा नारायण नागबली, कालसर्प की पूजा, विवाह में आने वाली बाधाओं के निवारण के लिए कुंवारे युवाओं ने अर्क विवाह और कन्याओं ने कुंभ विवाह और विशेष अनुष्ठान पंडित प्रियाशरण त्रिपाठी द्वारा कराए जा रहे हैं।