उपाय लेख

अकस्मात धन हानि योग निवारक टोटके…

131views

 

अकस्मात धन हानि योग निवारक टोटके

1. ’’पीले कनेर का पुष्प’’ नित्य ही गुरू प्रतिमा या तस्वीर पर चढ़ाएँ
2. च्मेली के 9 पुष्प बृहस्पतिवार (9 बृहस्पतिवार) को बहती दरिया में प्रवाहित करें।
3. बृहस्पतिवार के दिन पीले वस्त्र मंदिर में दान करें।
4. ’’सिद्ध श्री गणेश संयुक्त तारा यंत्र’’ गले में धारण कर अकस्मात धन की हानि होने से अपने जीवन को बचावें।
5. ’’केले वृक्ष की जड़’’ बृहस्पतिवार के दिन सोने की ताबीज में बंद कर पीले डोरे के साथ गले में धारण करें।

व्यापार, कृषि, नौकरी, दुर्घटना आदि में अकस्मात धन हानि योग और निवारण हेतु तिलस्मी टोटके
प्रश्न – धन की अकस्मात हानि होने के जन्म कुण्डली में कौन-कौन से योग बनते हैं ?उत्तर –

ALSO READ  धन प्राप्ति के लिए करें,लाल किताब के ये उपाय

1. अष्टमेश वक्री होकर कहीं भी बैठा हो तो अकस्मात धन की हानि होती है

2’ अष्टम स्थान में कोई ग्रह वक्री होकर बैठा है

3. अष्टम स्थान में कोई ग्रह नीच का हो एवं अस्तगत हो।

4. यदि अष्टमेश शत्रु क्षेत्री हो।

5. यदि गोचर में राहु का अष्टम स्थान में भ्रमण हो या राहु या अन्य पाप ग्रह बैठी हो।

6. यदि बृहस्पति बारहवें हों एवं धनेश बलहीन हो तथा लग्न पर शुभ ग्रह की दृष्टि न हो

7. यदि धनेश आठवें, बारहवें जाकर पाप ग्रस्त हो।

प्रश्न – उपरोक्त सातों योगों का मनुष्य पर क्या प्रभाव पडता है ?
उत्तर – इस योगों में जन्म जातक को अचानक धन की हानि होती है। धंधे, व्यापार, नौकरी या कृषि में कोई ऐसा कार्य हो जाता है कि अनायास ही धन की हानि उठानी पड़ती है। जिस प्रकार मनुष्य के जीवन में अचानक दुर्घटना घटित हो जाती है। ठीक उसी प्रकार से इन योगों के कारण मनुष्य को अचानक धन का नुकसान उठाना पड़ता है।
आकस्मिक धन हानि के बचाव हेतु मनुष्य को निम्नलिखित टोटको का इस्तेमाल पूर्व ही कर लेना चाहिए।

ALSO READ  समस्या दूर करने के लिए अपनाये लाल किताब के उपाय

पैतृक सम्पत्ति न मिलने के योग निवारण के तेजस्वी टोटके

1. मिट्टी का खाली घड़ा छः बुधवार को बहती दरिया में प्रवाहित करें।
2. पीला धागा गले में हर समय धारण किए रहें।
3. केशर का तिलक लगावें।
4. मंदिर मकें (विकास कार्य हेतु) रेता (बालू) दान करें।
5. ’’सिद्ध वांछा कल्पलता यंत्र’’ गले में धारण करें।