Astrology

मूलांक से जानिए अपना कार्य क्षेत्र

49views

मूलांक से जानिए अपना कार्य क्षेत्र
अंक 1-इस अंक वालों का प्रधान ग्रह सूर्य होता है, इसलिए ये लोग अनाज, सोना, मोती, का व्यापार कर सकते हैं। साथ ही सरकारी क्षेत्र में अपना करियर बना सकते है। इन्हें अवैधानिक या गैरकानूनी बिजनेस नहीं करना चाहिए। इसमें इन्हें हानि होने की संभावना अधिक रहती है।
अंक 2- इस अंक का प्रतिनिधि ग्रह चन्द्र होने से कृषि, रत्न, खिलौने, फैंसी स्टोर, रेडीमेड कपड़े का व्यापार इनके लिए लाभदायक सिद्ध हो सकता है। ऐनिमेशन और डिजाइनिंग, पेटिंग के क्षेत्र में भी ये लोग अपना करियर बना सकते हैं।
अंक 3- इस अंक का प्रतिनिधि ग्रह गुरू है। जिन लोगों का मूलांक 3 है उन्हें अध्यापन, धर्म से जुड़े कार्य, लेखन सामग्री, स्टेशनरी, पूजा-पाठ, कोचिंग आदि से जुड़े कार्य करना चाहिए।
अंक 4- मूलांक चार का प्रतिनिधि ग्रह राहु होने से इस मूलांक वालों को रेलवे, वायुयान सामग्री, तकनीकी कार्य, पुरातत्व, ज्योतिष, शेयर्स आदि क्षेत्रों में सफलता मिलने के योग बनते हैं।
अंक 5- इस अंक वालों का प्रतिनिधि ग्रह बुध है इसलिए इस मूलांक वाले लोगों को लकड़ी, फर्नीचर का कार्य, आयुर्वेद, ज्योतिष, कम्प्यूटर पार्ट्स, पत्रकारिता और विज्ञान से जुड़े क्षेत्र में अपना करियर तलाशना चाहिए।
अंक 6- जिनका मूलांक छ: होता है उनके लिए प्रतिनिधि ग्रह शुक्र है। शुक्र के कारण किराना, व्यापार, मिठाई आदि के व्यापार में इन्हें सफलता मिलती है। इसके अलावा ग्लैमर व डिजाइनिंग से जुड़े कार्य में भी इनका भविष्य उज्जवल रहता है।
अंक 7- इस अंक का प्रतिनिधि ग्रह केतु है। मूलांक 7 वाले लोगों को दवाई, सोना, ट्रेवल एजेंसी, अनुसंधान से जुड़े कार्य फायदा देते हैं।
अंक 8 -अंक 8 का उनका प्रतिनिधि ग्रह शनि है इसलिए इन्हें लोहे का व्यापार, तेल, तिल, ऊन का व्यापार, शारीरिक श्रम, राजनीति, प्रापर्टी ब्रोकर्स और मेकेनिकल इंजनियरिंग के क्षेत्र में सफलता मिलती है।
अंक 9 -इस अंक का स्वामी मंगल है। अंक 9 वालों को खेल के क्षेत्र में या फिर पुलिस या सेना के क्षेत्र में अपना करियर बनाना चाहिए। कोयले व धातुओं के व्यापार में भी इन्हें सफलता मिल सकती है।

ALSO READ  क्यों दिखाई देता है सपने में सांप?जानिए