AstrologyMarital Issues

गृह क्लेश से बचने के लिए ज्योतिष उपाय

393views

ऐसा माना जाता है कि जिस घर में क्लेश होता है, वहां लक्ष्मी का वास नहीं होता है, अतः प्रत्येक व्यक्ति को अपने गृहस्थ जीवन में सुख और शांति की कामना होती है क्योंकि घर और जीवन की खुशहाली ही व्यक्ति को जीवन में प्रगति के मार्ग पर ले जाती है. परिवार में व्याप्त कलह यानी की क्लेश से व्यक्ति का जीवन कठिनाइयों से भर जाता है, अतः गृह क्लेश से बचने या उसे कम करने के लिए ज्योतिष में कई प्रकार के उपाय बताए गए हैं, हम आपको ऐसे ही कुछ उपाय बता रहे हैं जिन्हें करके आपका जीवन सुखमय और खुशहाल बनाया जा सकता है।

गृह शांति के कुछ उपाय-

सोने की दिशा इस प्रकार रखें:

आप किस दिशा में सिर और पैर करके सोते हैं यह गृह कलह में काफी अहम भूमिका निभाता है। गृह कलह से मुक्ति के लिए रात को सोते समय पूर्व की और सिर रखकर सोए। इससे आपको तनाव से राहत मिलेगी। ऐसा करने से घर में सकारात्मक ऊर्जा का संचार होता है।

हनुमान जी की उपासना कीजिये:

हनुमान जी की नियमित रूप से की गई उपासना आपको सभी प्रकार के संकट और गृह कलह से दूर रखता है, यदि कोई महिला गृह कलह से परेशान हैं तो भोजपत्र पर लाल कलम से पति का नाम लिखकर तथा ‘हं हनुमंते नम:’ का 21 बार उच्चारण करते हुए उस पत्र को घर के किसी कोने में रख दें इसके अलावा 11 मंगलवार नियमित रूप से हनुमान मंदिर में चोला चढाएं एवं सिंदूर चढाएं। ऐसा करने से परेशानियों से राहत प्राप्त होगी।

ALSO READ  श्री महाकाल धाम अमलेश्वर में 27,28,29 मई को होगा महा यज्ञ...

जलाभिषेक कीजिये:

प्रतिदिन सुबह में स्नान करने के बाद स्वच्छ वस्त्र पहनकर मंदिर या घर पर शिवलिंग के सामने बैठकर शिव उपासना करें, आप ‘ऊँ नम: सम्भवाय च मयो भवाय च नम:। शंकराय च नम: शिवाय च शिवतराय च:।।’ मंत्र का 108 बार उच्चारण कर सकते हैं इसके बाद आप शिवलिंग पर जलाभिषेक करें ऐसा नियमित करने से पति-पत्नी के वैवाहिक जीवन में सुख शांति बनी रहती है।

भगवान गणेश जी की उपासना कीजिये:

यदि किसी घर में पति-पत्नी या बाप-बेटे के बीच कलह है या किसी भी बात पर विवाद चल रहा है तो इसमें गणेश उपासना फायदेमंद रहेगी, वैवाहिक जीवन को सुखी बनाने के लिए आप नुक्ति के लड्डू का भोग लगाकर प्रतिदिन श्री गणेश जी और शक्ति की उपासना करे।

ALSO READ  राहु-मंगल की युति से जातकों के जीवन में होती हैं ऐसी कई घटनाएँ...

चीटियों को भोजन दें:

चीटियों के बिल के पास शक्कर या आटा व चीनी मिलाकर डालने से गृहस्थ की समस्याओं का निवारण होता है ऐसा नियमित 40 दिन तक करें। ध्यान रखें कि इस प्रक्रिया में कोई नागा न हो।

गोमती चक्र फेंके:

यदि पति-पत्नी के रिश्तों में तनाव अधिक बढ़ गया है तो तीन गोमती चक्र लेकर घर के दक्षिण में हलूं बलजाद कहकर फेंकने से तनाव दूर होगा, पांच गोमती चक्र को लाल सिंदूर की डिब्बी में घर के अंदर श्रृंगार वाले स्थान या पूजा में रखने से दाम्पत्य जीवन में सुख-शांति बनी रहती है।

कुमकुम लगाए:

एक गेंदे के फूल पर कुमकुम लगाकर उसे किसी देव स्थान में मूर्ति के सामने रख दें ऐसा करने से रिश्तों में आया तनाव और मतभेद दूर होते हैं, इसके साथ ही छोटी Yकन्या को शुक्रवार को मीठी वस्तु खिलाने और भेंट करने से आपके संकटों का निवारण होता है।

तकिये में सिंदूर रखें:

घर मे व्याप्त कलह क्लेश को कम करने के लिए पति-पत्नी को रात को सोते समय अपने तकिये में सिंदूर की एक पुड़िया और कपूर रखें। सुबह में सूर्योदय से पहले उठकर सिंदूर की पुड़िया घर से बाहर फेंक दें और कपूर को निकालकर अपने कमरे में जला दें। ऐसा करने से लाभ ।

ALSO READ  राहु-मंगल की युति से जातकों के जीवन में होती हैं ऐसी कई घटनाएँ...

हल्दी की गांठ:

ससुराल में सुखी रहने के लिए कन्या अपने हाथ से हल्दी की पांच साबुत गांठें, पीतल का एक टुकड़ा और थोड़ा-सा गुड़ ससुराल की दिशा की ओर फेंक दें, ऐसा करने से ससुराल में सुख एवं शांति का वास रहता है। पति-पत्नी के बीच प्रेम संबंध बने रहते हैं।

नारियल चढ़ाएं:

यदि हमेशा ग्रह क्लेश रहती हो तो सोमवार को शिव मंदिर में नारियल चढ़ाना चाहिए इस नारियल के पानी को दूध में मिलाकर और शिवलिंग पर आधा चढ़ा दे और बाकी बचे मिश्रण को घर में खीर बनाकर घरवालों को खिला दें या प्रसाद के रूप में बांट दे, इस उपाय को करने से गृह क्लेश से अवश्य ही मुक्ति मिलेगी।

भगवान सत्यनारायण की कथा कराएं:

जिन घरों में हमेशा कलह रहती है वो घरेलू शांति के लिए महीने के अंदर सत्यनारायण की कथा करवाएं। इससे घर में सुख समृद्धि आएगी, ग्रह क्लेश को दूर करने के लिए ये उपाय अवश्य करें।