astrologerAstrologyHoroscope

Rahu: मानसिक शांति भंग कर सकता है राहु ? जानें इसके बचने के उपाय…

34views

Rahu Upay: ज्योतिष शास्त्र में राहु को पाप ग्रह माना गया है. कुंडली में यदि ये अशुभ हो तो इंसान का जीवन तहस-नहस हो जाता है. इसलिए इस ग्रह को शांत रखना जरुरी है. आइए जानते हैं राहु शांति के कुछ उपाय.

श्री महाकाल धाम मे अपनी राहू पूजन बुक करने के लिए यहाँ क्लिक करें 👈🏿

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार राहु को कष्टदायी ग्रह माना गया है. राहु एक छाया ग्रह है. कहा जाता है जिस जातक की कुंडली में राहु और केतु का दोष होता है, उसका  जीवन नर्क के समान हो जाता है. यानी ऐसे लोगों पर हमेशा राहु की छाया रहती है. ऐसे में व्यक्ति जो की कार्य करता है, उसमें सफलता की संभावना बहुत कम होती है. यही वजह है कि लोग राहु के अशुभ प्रभाव से भय खाते हैं.

श्री महाकाल धाम मे अपनी पार्थिव पूजन बुक करने के लिए यहाँ क्लिक करें 👈🏿

लेकिन कुंडली में मौजूद राहु शुभ प्रभाव भी देता है. अधिकांश धारणा यही है कि राहु की दशा बहुत अधिक कष्टदायी होती है. ऐसे में यह जानना जरूरी हो जाता है कि आखिर राहु की दशा और महादशा के निवारण के लिए कौन सा ज्योतिषीय उपाय करना सही होगा. आइए जानते हैं राहु की शांति के लिए ज्योतिष शास्त्र में बताए गए कुछ प्रभावी उपाय-

राहु के उपाय 

  • देवताओं की अराधना करना राहु के काले प्रभाव से बचने का अच्छा उपाय है. मां भगवती की पूजा करने से राहु के दोष दूर होते हैं. दुर्गा सप्तशती में मां दुर्गा को छायारूपेण संस्थिता कहा गया है और राहु भी छाया ग्रह ही हैं. ऐसे में मां दुर्गा की पूजा-अर्चना करने से राहु ग्रह के अशुभ प्रभाव शांत होते हैं. 

श्री महाकाल धाम मे अपनी अर्क विवाह / कुम्भ  विवाह पूजन बुक करने के लिए यहाँ क्लिक करें 👈🏿

  • ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, घर में शेषनाग के ऊपर नाचते हुए श्रीकृष्ण की तस्वीर रखें और नियमित पूजा करें. पूजन के दौरान ‘ओम् नमो भगवते वासुदेवाय नमः’ मंत्र का 108 बार जाप करें. माना जाता है कि राहु-केतु की शांति के लिए यह उपाय भी प्रभावी साबित होता है. 

श्री महाकाल धाम मे अपनी कालसर्प  पूजन बुक करने के लिए यहाँ क्लिक करें 👈🏿

  • धर्म और कर्तव्य की मान्यताओं के अनुसार किसी गरीब कन्या का विवाह कराने या विवाह में सहयोग करने से भी राहु के अशुभ प्रभाव कम होते हैं. माना जाता है कि ऐसा करने से धीरे-धीरे राहु अशुभ प्रभाव खत्म होने लगते हैं. 

श्री महाकाल धाम मे अपनी नारायण नागबली  पूजन बुक करने के लिए यहाँ क्लिक करें 👈🏿

  • ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, रविवार के दिन कन्याओं को दही और हलवा खिलाने से राहु के दोष दूर होते हैं. जिससे जीवन में परेशानियां खत्म होने लगती हैं और बुरे दिन खत्म हो जाते हैं. 

श्री महाकाल धाम मे अपनी शनि शांति  पूजन बुक करने के लिए यहाँ क्लिक करें 👈🏿

इन तरह के सभी कार्मिक ज्योतिष के बाधाओं निवृत्ति के लिए विगत 20 वर्षों से श्री अमलेश्वर महाकाल धाम में नारायणबलि, नागबलि, त्रिपिंडि श्राद्ध, कालसर्प , अर्क विवाह , कुंभ विवाह , कराये जा रहे है। खारून के तट पर बना श्री महाकाल धाम तिर्थ जहां देश भर से श्रद्धालु पधारते है। संपर्क सूत्र – पंडित प्रियाशरण त्रिपाठी ज्योतिषाचार्य  – 9753039055 / 9893363928 

ALSO READ  कैसे पता करें कि घर में पितृ दोष है की नहीं ?