AstrologyGods and Goddess

2 जुलाई को दिखेगा साल का दूसरा सूर्य ग्रहण, ग्रहण से पूर्व ही आप कुछ बातों को अच्छी तरह से जान लें

361views

इस बार सूर्य ग्रहण मंगलवार को यानी दो जुलाई को लग रहा है। ऐसे में जरूरी है कि ग्रहण से पूर्व ही आप कुछ बातों को अच्छी तरह से जान लें ताकि जब सूतक लगे तभी से आप नियमों का पालन करने लगे। सूर्य ग्रहण के दौरान कुछ बातें निषेध हैं और इन निषेध कामों को करने से जीवन में कष्ट और मानिसक विकार तक मिल सकते हैं।

यही नहीं कई बार आपके किए गए कार्यों का फल आपके बच्चों को भुगतना पड़ता है। इसलिए कहा गया है कि ग्रहण के दौरान जिन बातों को करने की मनाही है उसे सावधानी पूर्वक पालन करना चाहिए। यही नहीं गर्भवती महिलाओं के लिए यह समय बहुत ही कठिन परीक्षा वाला होता है इसलिए उन्हें भी ग्रहण के दौरान बेहद सजग और सावधान रहना चाहिए। तो आइए जानें की ग्रहण के दौरान किन चीजों को करना निषेध है और क्या चीजें करनी चाहिए।

ALSO READ  घर-परिवार में हुई हो अकाल मृत्यु तो करा लें यह पूजा, नहीं तो पीढ़ियां होंगी परेशान! जानें इसकी विधान

ग्रहण के दौरान कभी न करें ये काम

  • ग्रहण में भगवान के मंदिर में न जाए और न ही घर स्थित मंदिर में पूजा करें।
  • भगवान को स्पर्श न करें। भगवान के मंदिर को किसी पर्दे से ढक दें।
  • सूतक लगते ही कुछ भी न खाएं। कोशिश करें की पानी का भी परहेज करें।
  • सूतक के दौरान मल-मूत्र त्याग करना भी मना है, लेकिन बच्चो, बूढ़ों और बीमार लोगों के लिए इसमें छूट है।
  • सूतक लगने के बाद ही अपने बिस्तर से उठ जाएं। इस दौरान सोना भी मना होता है।
  • सूतक में कभी भी प्रेम या संबंध बनाने से बचें।
  • अगर आप गर्भवती हैं तो आप अपने हाथ में चाकू-कैंची या कोई भी धारदार चीज न लें। न ही कुछ काटने का प्रयास करें।
  • गर्भवती महिला ग्रहण के दौरा कोशिश करे खड़ी रहे, लेटना या हाथ-पैर मोड़ कर न बैठें।
ALSO READ  जीना मुश्किल कर देते हैं राहु-केतु के अशुभ प्रभाव ! जानें इसके निदान

ग्रहण के दौरान क्या करें

  • सूर्य ग्रहण लगने से कई घंटे पहले सूतक लग जाता है। इस दौरान घर में भी भगवान के मंदिर को ढक देना चाहिए।
  • सूतक के दौरान भी नहाना चाहिए और जब ग्रहण हट जाए तो भी नहाना जरूरी होता है।
  • सूतक लगते ही आप प्रभु के भजन-कीर्तन आदि करते रहें।
  • गर्भवती महिलाएं अपने लंबाई के बराबर एक कुश लें। यदि कुश न हो तो कोई सीधा डंडा लेकर उसे कोने में खड़ा कर दें। इससे यदि वह ग्रहण में बैठना या लेटना चाहें तो लेट सकेंगी।
  • ग्रहण में कोशिश करें बचे हुए सारे खाने में तुलसी के पत्ते डाल दें।
  • ग्रहण के समय अनाज छू कर उसे दान करना चाहिए।
ALSO READ  सपने में देखते है सांप ! तो हो सकता है,कालसर्प दोष !

इन बातों का यदि ग्रहण में ध्यान रखा जाए तो ये आपके जीवन में सकारात्मक प्रभाव डा़लते हैं। ग्रहण का वैज्ञानिक प्रभाव भी होता है और इसी आधार पर ज्योतिष के ये उपाय भी बनें हैं।