व्रत एवं त्योहार

जानें हरतालिका तीज व्रत के नियम व विधि

256views

 

Hartalika Teej 2022 date and time : हरतालिका तीज का व्रत भाद्रपद शुक्ल तृतीया तिथि को रखा जाता है. इस साल 30 अगस्त को हरतालिका तीज मनाई जाएगी. तृतीया तिथि 29 अगस्त को दोपहर 3:20 बजे से 30 अगस्त को दोपहर 3:33 बजे तक प्रभावी रहेगी.हरतालिका तीज हिंदू धर्म में रखें जाने वाले महत्वपूर्ण व्रतों में से एक है. हरतालिका तीज भाद्रपद मास की शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि को मनाई जाती है. इस दिन भगवान शिव और माता पार्वती की पूजा करने से मनोवंछित फल की प्रप्ति होती है. हरतालिका तीज व्रत अविवाहित और विवाहित महिलाएं दोनों कर सकती हैं.इस बार मंगलवार 30 अगस्त को हरतालिका तीज मनाई जाएगी. इस दिन सुबह से ही शुभ योग लग रहा है, जो रात 12 बजकर 4 मिनट तक रहेगा. ऐसा माना जाता है कि भगवान शिव को पति के रूप में पाने के लिए देवी पार्वती ने सबसे पहले इस व्रत को किया था. हरतालिका तीज व्रत करने से पति की लंबी आयु और वैवाहिक जीवन में खुशियों की प्रप्ति होती है।

ALSO READ  कब शुरू करना चाहिए गुरुवार व्रत ? जानें

तीज व्रत के नियम और हरतालिका 
हरतालिका तीज व्रत बेहद कठिन नियमों के साथ किया जाता है. इस दिन महिलाएं अनाज और पानी का सेवन नहीं करती है. इसमें व्रत के अगले दिन जल ग्रहण किया जाता है. हरतालिका तीज व्रत के दिन रात में धार्मिक भजन गाते हुए उत्सव मनाया जाता है.

नियम
हरतालिका तीज व्रत पर भगवान शिव और देवी पार्वती की पूजा की जाती है. रेत और काली मिट्टी से भगवान शिव, देवी पार्वती और भगवान गणेश की हाथ से मूर्तियां बनाई जाती है. अगली सुबह आरती के बाद देवी पार्वती को सिंदूर चढ़ाएं और फिर अपना उपवास समाप्त करें.