Daily HoroscopeHoroscope

31 मार्च 2020 का राशिफल: वृश्चिक राशि वाले लेनदेन से बचें, कन्या राशि वाले जोखिम के कार्य में रहें सतर्क, नवरात्री में राशि अनुसार उपाय

22views
  • दिनांक 31.03.2020 का पंचाग
  • शुभ संवत 2077 शक 1942 …सूर्य उत्तरायण का …चैत्र मास शुक्ल पक्ष सप्तमी तिथि.. रात्रि को 03 बजकर 50 मिनट तक .. दिन … मंगलवार वार … मृगशिरा नक्षत्र … शाम को 06 बजकर 44 मिनट तक … आज चंद्रमा … मिथुन राशि में … आज का राहुकाल दोपहर को 03 बजकर 12 मिनट से 04 बजकर 44 मिनट तक होगा …
ALSO READ  आर्थिक राशिफल 31 मार्च 2020: आज मेष राशि वाले जातकों के कार्यक्षेत्र में आर्थिक मजबूती मिलने वाली है,जानिए आर्थिक रूप से कैसा रहेगा आज आपका दिन…
ALSO READ  हेल्थ राशिफल 31 March 2020: आज तुला राशि वाले जातकों को मानसिक बेचैनी हो सकती है, जानिए स्वास्थ्य के रूप से कैसा रहेगा आज आपका दिन…

मेष राशि –

          मेष राशि वाले जातक सभी प्रकार के कष्टो और भय से मुक्त होने के लिए मां कालरात्रि की पूजा ॐ कालरात्र्यै नम: मंत्र से करें, साथ ही माता को ग्यारह नींबू की माला अर्पित करें एवं गुड़ का भोग लगायें।

वृषभ राशि –

          इस राशि वाले जातक सभी प्रकार से सुख प्राप्ति एवं हानि से बचने के लिए मां कालरात्रि की मध्यरात्रि की पूजा ॐ ह्रीं श्रीं क्लीं दुर्गति नाशिन्यै महामायायै स्वाहा मंत्र से करें साथ ही माता को तिल से बनी मिठाईयां और नीली साड़ी अर्पित करें।

ALSO READ  व्‍यक्‍ति की उंगलियां उसके भविष्‍य का आइना होती हैं, जान सकते है व्यक्ति का स्वाभाव

मिथुन राशि –

          इस राशि वाले जातक माता को काई हरी साड़ी तथा महावर चरणों में अर्पित करें एवं उड़द दाल की खिचड़ी का भोग लगाकर गरीबों में प्रसाद के रूप में वितरित करें साथ ही या देवी सर्वभूतेषु कालरात्रि रूपेण संस्थिता। नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नम:॥ मंत्र का 108 जाप करें।

कर्क राशि –

इस राशि वाले जातक माता को चरण पादुका अर्पित करें एवं चांदी की गाय और बछिया की जोड़ी मां के चरणों में रखें तथा ऊं ऐं ह्रीं क्लीं चामुण्डायै विच्चे मंत्र से माता की पूजा करें, और केले का भोग लगायें।

सिंह राशि –

इस राशि वाले जातक मां कालरात्रि की पूजा में पंजीरी का भोग लगाकर माता को रक्तलाल चुनरी चरणों में अर्पित करें एवं ॐ फट् शत्रून साघय घातय ॐ मंत्र का 108 माला जाप करें।

ALSO READ  नाखूनों पर बने निशान व्यक्ति के बारे में कुछ संकेत देते हैं!!!! क्या जाने यहाँ

कन्या राशि –

कन्या राशि वाले जातक सभी प्रकार के शत्रुबाधा को दूर करने के लिए माता के मंत्र ॐ ह्रीं श्रीं क्लीं दुर्गति नाशिन्यै महामायायै स्वाहा का जाप करें तथा माता को गुड़ और तिल से बनी मिठाई का भोग लगायें।

तुला राशि –

तुला राशि वाले जातक मां कालरात्रि की पूजा में सिंघाड़े का भोग लगायें और मिश्री का प्रसाद वितरित करें साथ ही मंत्र ॐ कालरात्र्यै नम: का जाप करते हुए किसी अपंग को तिल का तेल दें।

वृश्चिक राशि –

वृश्चिक राशि वाले जातक मां कालरात्रि की पूजा में मंत्र का जाप करते हुए अनार का दान करें एवं मां को जामुनिया रंग का वस्त्र अर्पित करें एवं ॐ फट् शत्रून साघय घातय ॐ मंत्र का जाप करें, इससे उनके जीवन में कटुता दूर होकर रिश्तों में मधुरता आयेगी।

ALSO READ  आपके हाथ की जीवन रेखा क्या बताती है

धनु राशि –

धनु राशि वाले जातक अपने जीवन में अपयश दूर करने के लिए माता के मंत्र ऊं ऐं ह्रीं क्लीं चामुण्डायै विच्चे का 11हजार बार जाप करें साथ ही किसी बुजूर्ग या गुरू तुल्य व्यक्ति को छाता तथा काला शाल अर्पित करें एवं पीठे का प्रसाद दें।

मकर राशि –

मकर राशि वाले जातक मां कालरात्रि की पूजा से अपने कर्मक्षेत्र के विरोध को दूर कर सकते हैं इसके लिए उन्हें नारंगी रंग का वस्त्र मां को अर्पित करते हुए खट्टे फल मां के चरणों में अर्पित करना चाहिए और ॐ कालरात्र्यै नम: मंत्र का जाप करना चाहिए।

कुंभ राशि –

कुंभ राशि वाले जातक आटे का दीपक बनाकर घी से प्रज्जवलित कर मां के निम्न मंत्र ॐ फट् शत्रून साघय घातय ॐ का एक माला जाप करते हुए शहद का दान करें और माता को आरेंज रंग की चुड़िया अर्पित करें।

ALSO READ  कालसर्प योग और हस्तरेखा

मीन राशि –

मीन राशि वाले लोग अपने जीवन में सभी सुख प्राप्ति हेतु मां को चीनी एवं चावल से बने लड्डू का भोग लगाते हुए मां को ॐ ह्रीं श्रीं क्लीं दुर्गति नाशिन्यै महामायायै स्वाहा मंत्र अर्पित करें एवं सुहाग की सामग्री मां के चरणों मे रखें।