Other Articlesउपाय लेख

घर-परिवार में है संकट ? तो करें ये उपाय

386views

घर-परिवार में है संकट ? तो करें ये उपाय

हर व्यक्ति की कामना होती हैं की उसके घर में सदैव सुख समृद्धि बनी रहे, घर का वातावरण स्वर्ग की तरह सकारात्मक उर्जा और प्रेम एवं एक दूसरे के सहयोग से भरा पूरा हो ।लेकिन वहीं घर-परिवार का वातावरण अनुकूल नहीं हो, तब वह प्रत्येक सदस्य के जीवन को प्रभावित करता है । अगर किसी के घर में किसी कारण से सुख शांति नहीं है, नीचे दिए गए छोटे लेकिन रामबाण घरेलु उपायों को आजमा कर आप हमेंशा के लिए अपने घर में सुख-शांति बनाए रख सकते हैं ।घर के मुख्य दरवाजे पर दाहिनी तरफ सिंदुर से स्वास्तिक का चिन्ह अवश्य बनाएं, एवं सूर्यास्त के समय हर रोज घर के आंगन में लगे तुलसी के पौधे के पास घी का दीपक जरूर जलाया करें । इससे आपके घर में सदैव सुख शांति का वातावरण बना रहेगा, घर के सभी लोग भी मिल जुलकर रहते हैं

नमक का उपाय

नमक का उपाय करके भी आप घर के झगड़े को दूर भगा सकते हैं और घर के क्लेश को भी खत्म कर सकते हैं। नमक का उपाय करने के लिए आपको थोड़ा सा नमक लेना है और इसे पानी में डालना है। इसके बाद आपको इसी नमक वाले पानी से अपने घर में पोंछा लगाना है।

ऐसा करने से घर के अंदर जो भी नेगेटिव एनर्जी मौजूद होती है, वह या तो चली जाती है या फिर खत्म हो जाती है और इसका उपाय करने से आपके घर में जो वास्तु दोष होता है वह भी खत्म होता है।

इस प्रकार वास्तु दोष खत्म होने से और नेगेटिव एनर्जी बाहर चले जाने की वजह से आपके घर में सुख शांति वापस चली आती है और घर में होने वाले झगड़े भी कम हो जाते हैं, साथ ही आर्थिक उन्नति भी होती है।

1- घर में सुबह सुबह कुछ देर के लिए भक्ति गीत, भजन अवश्य करें या बजायें ।
2- घर में कभी भी झाड़ू को खड़ा करके नहीं रखें, उसे पैर नहीं लगाएं, न ही उसके ऊपर से गुजरे अन्यथा घर में अलक्ष्मी निवास करने लगेगी
3- अपने सोने के बिस्तर पर बैठकर कभी भोजन न करें, ऐसा करने से बुरे सपने आते हैं, या फिर घर में दरिद्रता का वास होने लगता है ।
4- घर के मुख्य द्वार पर या इधऱ उधर जूते-चप्पल उल्टे सीधे करके नहीं रखने चाहिए इससे घर में अशांति उत्पन्न होने लगती है ।
5- अपने घर में पूजा पाछ हमेशा सुबह 6 से 8 बजे के बीच भूमि पर कुश का आसन बिछाकर पूर्व या उत्तर दिशा की ओर मुंह करके रोज करें  ऐसा करने से सुख समृद्धि बना रहेगी ।

6- हमेशा घर में बनी हुई पहली रोटी गाय के लिए जरूर निकालें ।
7- अपने घर के पूजा स्थल में सदैव जल से भरा एक कलश जरूर रखें ।
8- पूजा में उपयोग होने वाली धूप, आरती, दीप, हवन की अग्नि जैसे पवित्रता के प्रतिक साधनों को कभी भी अपने मुंह से फूंक मारकर नहीं बुझाएं ।