व्रत एवं त्योहार

Akshaya Tritiya 2020: अक्षय तृतीया के दिन नहीं करने चाहिए ये काम, मां लक्ष्मी हो सकती हैं नाराज़

86views

Akshaya Tritiya 2020: हिंदू धर्म में अक्षय तृतीया (Akshaya Tritiya 2020) का विशेष महत्व है. इस बार अक्षय तृतीया का त्योहार 26 अप्रैल के दिन मनाया जाएगा. कुछ जगहों पर अक्षय तृतीया (Akshaya Tritiya) को आखा तीज भी कहा जाता है. पौराणिक मान्यताओं के अनुसार, अक्षय तृतीया के दिन दान-पुण्य का विशेष महत्व है.

इस बार 6 अबूझ मुहूर्त होने से इसका महत्व और भी बढ़ गया है. अक्षय तृतीया के दिन कुछ कामों को करना शुभ माना जाता है और कुछ कामों को करने की मनाही होती है. आइए जानते हैं अक्षय तृतीया के दिन कौन से काम किए जाते हैं और कौन से काम नहीं.

ALSO READ  कब शुरू करना चाहिए गुरुवार व्रत ? जानें

अक्षय तृतीया के दिन जरूर करने चाहिए ये काम

– धार्मिक शास्त्रों में अक्षय तृतीया के दिन को बेहद शुभ माना गया है. इस दिन दान करने से अक्षय पुण्य की प्राप्ति होती है.

हिंदू संस्कृति में प्रचलित प्रमुख संस्कार –

– अक्षय तृतीया के दिन जौ, गेहूं, चना, दही, चावल, फल और अनाज का दान करना चाहिए.

– पितरों की कृपा और आशीर्वाद प्राप्त करने के लिए अक्षय तृतीया के दिन पूजा करना शुभ माना जाता है.

अक्षय तृतीया के दिन नहीं करने चाहिए ये काम

धार्मिक शास्त्रों के अनुसार, अक्षय तृतीया के दिन कुछ कार्यों से बचना चाहिए.

ALSO READ  कब शुरू करना चाहिए गुरुवार व्रत ? जानें

– अक्षय तृतीया के दिन में घर में किसी तरह का क्लेश या लड़ाई झगड़ा नहीं करना चाहिए.

– अक्षय तृतीया के दिन घर में किसी भी तरह की गंदगी नहीं होनी चाहिए. इस दिन पूरे घर की सफाई का विशेष ध्यान रखना चाहिए.

– इस दिन परिवार के सदस्यों या किसी भी जानकार से वाद-विवाद से बचना चाहिए.

स्वयं जानिए अपने शुभ एवं अशुभ अंकों को

– ऐसा कहा जाता है कि अक्षय तृतीया के दिन मांस या मदिरा का सेवन किया जाए तो यह घर की खुशियों को खत्म कर देता है.

ALSO READ  कब शुरू करना चाहिए गुरुवार व्रत ? जानें

– ऐसा कहा जाता है कि अक्षय तृतीया के दिन जो मनुष्य गलत कार्य करता है, उसे जीवनभर उसके पाप का फल भोगना पड़ता है.

– अक्षय तृतीया के दिन किसी भी प्रकार के सेवन करने की मनाही होती है.

Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं मान्यताओं पर आधारित हैं. futureforyou इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.