HomeOther Articlesउपाय लेख

Vastu tips : जानें किस दिशा में होना चाहिए किचेन ..

76views

Vastu tips : जानें किस दिशा में होना चाहिए किचेन ..

वास्तु शास्त्र में रसोई घर का महत्वपूर्ण स्थान होता है। रसोई एक ऐसा स्थान होता है, जहां पर परिवार के सभी सदस्यों के लिए भोजन बनता है। वास्तु के अनुसार कहा जाता है कि यदि इस स्थान पर कोई दोष हो तो इसका प्रभाव खाना बनाने वाले के साथ ही पूरे परिवार पर भी पड़ता है। रसोई की गलत दिशा घर की सुख शांति को कम कर सकती है और घर के सदस्यों के बीच लड़ाई का कारण बन सकती है। इसके अलावा रसोई में भोजन बनाते समय मुख सही दिशा में न हो तो परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। ऐसे में वास्तु शास्त्र के अनुसार चलिए जानते हैं कि घर की किस दिशा में रसोई होना चाहिए और कहां गैस स्टोव रखना चाहिए…

रसोई घर की दिशा
वास्तु के अनुसार किसी के घर में पृथ्वी, आकाश, वायु, अग्नि और जल के तत्वों का उचित संतुलन होना चाहिए.
-रसोई का स्थान घर के दक्षिण-पूर्व कोने में होना चाहिए और खाना बनाते समय पूर्व दिशा की ओर मुख करना चाहिए.
-खाना बनाते समय पश्चिम दिशा एक वैकल्पिक दिशा है.

 

  • रसोई में अग्नि तत्व होने के नाते, यह उस कोने में होना चाहिए जहां अग्नि के देवता मौजूद हों.
  • जब आप खाना बना रहे हों तो आपका मुंह पूर्व दिशा की ओर होना चाहिए.
  • आपका गैस स्टोव पूर्व की ओर रखा जाना चाहिए.
  • अगर खाना बनाते समय खाना बनाने वाले का मुंह पश्चिम दिशा की ओर होता है तो इससे स्वास्थ्य संबंधी गंभीर समस्याएं हो सकती हैं.

कहां न रखें गैस स्टोव

वास्तु शास्त्र के मुताबिक रसोई में गैस स्टोव को कभी भी इस तरह नहीं रखना चाहिए कि खाना बनाते समय आपका मुंह दक्षिण दिशा की तरफ हो अन्यथा उससे वित्तीय समस्याएं पैदा हो सकती हैं।
इसके अलावा, पश्चिम दिशा में भी गैस स्टोव रखना शुभ नहीं माना गया है क्योंकि वास्तु के अनुसार खाना बनाते समय यदि आपका मुंह पश्चिम दिशा की ओर होता है तो उस से सेहत संबंधी परेशानियां हो सकती हैं।