व्रत एवं त्योहार

Chaitra Navratri 2020:कल से प्रारंभ हो रही है चैत्र नवरात्रि, जानें किस दिन किस देवी की होगी पूजा

149views

Chaitra Navratri 2020 Date in India: हिंदू नव वर्ष के पहले दिन से चैत्र नवरात्र भी प्रारंभ हो जाते हैं। चैत्र शुक्ल प्रतिपदा से लेकर अगरे नौ दिनों तक मां के अलग-अलग रूपों की उपासना की जाती है। धार्मिक मान्यताओं अनुसार जो भक्त नवरात्र में मां अम्बे की सच्चे मन से अराधना करता है उसके सारे दुख दूर हो जाते हैं और जीवन में सुख शांति का वास होता है। इस बार के नवरात्र कई शुभ संयोगों के बनने के कारण भी खास माने जा रहे हैं।

ALSO READ  ज्योतिषीय विश्लेषण: कोरोना वायरस से कब मुक्त होगा भारत?

वैसे तो मां दुर्गा की अराधना के सभी दिन शुभ माने गये हैं। जिसमें किसी भी तरह का शुभ कार्य बिना सोच विचार के आरंभ किया जा सकता है। लेकिन इस बार नवरात्र में 4 सर्वार्थ सिद्धि योग, 5 रवि योग और 1 द्विपुष्कर योग बनने से इन दिनों का महत्व और भी अधिक बढ़ गया है। इन योगों में मां दुर्गा की उपासना काफी फलदायी बताई जा रही है।

नवरात्र के पहले दिन होती है कलश स्थापना: इसे घट स्थापना भी कहा जाता है। चैत्र नवरात्र के पहले दिन शुभ मुहूर्त में घर के मंदिर में कलश की स्थापना की जाती है। कई लोग इस दिन से लेकर पूरे नवरात्र तक अखंड दीपक भी जलाते हैं।
चैत्र नवरात्र घटस्थापना मुहूर्त: 
बुधवार, मार्च 25, 2020 को
घटस्थापना मुहूर्त – 06:00 ए एम से 06:57 ए एम
अवधि – 00 घण्टे 56 मिनट्स
प्रतिपदा तिथि प्रारम्भ – मार्च 24, 2020 को 02:57 पी एम बजे
प्रतिपदा तिथि समाप्त – मार्च 25, 2020 को 05:26 पी एम बजे
मीन लग्न प्रारम्भ – मार्च 25, 2020 को 06:00 ए एम बजे
मीन लग्न समाप्त – मार्च 25, 2020 को 06:57 ए एम बजे

ALSO READ  एक ऐसा 900 साल पुराना मंदिर जहाँ जाने वाले भक्त की पैसों से जुड़ी समस्या चंद दिनों में दूर हो जाती

नवरात्रि में किस दिन माता के किस स्वरूप की होती है पूजा?

25 मार्च 2020 – पहला नवरात्र, शैलपुत्री माता की पूजा, हिमालय के घर पुत्री के रूप में जन्म लेने के कारण उनका नामकरण शैलपुत्री हुआ था।

26 मार्च 2020 – नवरात्र पर्व के दूसरे दिन मां ब्रह्मचारिणी की पूजा-अर्चना की जाती है।

27 मार्च 2020 – माता की तीसरी शक्ति के रूप में चंद्रघंटा माता की पूजा की जाती है।

28 मार्च 2020 – चौथे दिन मां दुर्गा के स्वरूप कुष्मांडा की पूजा की जाती है।

29 मार्च 2020 – नवरात्रि के पांचवें दिन स्कंदमाता की पूजा की जाती है।

30 मार्च 2020 – नवरात्रि के दिन माता के छठे स्वरूप कात्यायनी की पूजा-अर्चना की जाती है।

ALSO READ  यहां जानें किस ग्रह का कौन-सा रत्न/धातु/अन्न/वस्त्र/ माला/ मंत्र/ समय/ जप-संख्या है?

31 मार्च 2020 – नवरात्रि के सातवें दिन मां कालरात्रि की उपासना का विधान है।

1 अप्रैल 2020 – नवरात्रि के आठवें दिन महागौरी की अराधना की जाती है।

2 अप्रैल 2020 – नवरात्रि के आखिरी दिन माता सिद्धिदात्री की पूजा की जाती है।