Health Astrology

भूख न लगना,जाने इसके संकेत,अपनाए ये टिप्स 

318views

भूख न लगना,जाने इसके संकेत,अपनाए ये आसान से टिप्स 

अगर आप भी उन लोगों में से हैं, जिन्हें भूख नहीं लगती, तो अब आपको इसके लक्षण और कारणों के बारे में जान लेना चाहिए। सही उपचार आपकी भूख बढ़ाने में मदद करेगा।आपको भी भूख कम लगती है या आपके सामने स्वादिष्ट भोजन होने के बाद भी आपको खाने का मन नहीं होता। भूख की इस कमी को एनोरेक्सिया कहा जाता है।

यह स्थिति तब बनती है, जब आपको कुछ भी खाने की इच्छा कम हो। अगर आपके साथ ऐसा बार-बार हो रहा है, तो आपको इसके कारण और लक्षणों के बारे में जरूर पता होना चाहिए।कई बार कुछ ना खाने पर भी लोगों को भूख नहीं लगती। भले ही उनके सामने कितना भी लाजवाब भोजन क्यों न रख दिया जाए, इसे देखकर वे नाक-मुंह सिकोड़ने लगते हैं। भूख कम होने के पीछे स्वास्थ्य स्थितियां कारण हो सकती हैं। हो सकता है कि इसके पीछे की वजह शारीरिक और मानसिक दोनों तरह की बीमारियां हों। हो सकता है भूख कम लगने से आप कम वजन और कुपोषण का अनुभव करें।

लेकिन आजकल की स्ट्रेसफुल लाइफस्टाइल ने खाने की आदतों को खराब कर दिया है. सही प्रकार भोजन न करने के कारण शरीर में पोषक तत्वों की कमी हो सकती है. इससे भूख न लगने की समस्या हो सकती है. सही मात्रा में खाना न खाने से कमज़ोरी, थकान और न्यूट्रिएंट्स की कमी हो जाती है. कमजोर शरीर को बीमारियां घेर लेती हैं. हेल्दी रहने के लिए अच्छी खुराक लेना जरूरी है. भूख न लगना बॉडी में हार्मोनल असंतुलन और पेट की बीमारियों का संकेत हो सकता है. जानें भूख न लगने के कारण क्या होते हैं और इस समस्या से कैसे छुटकारा पाया जा सकता है।

सही समय पर इसका इलाज न किया जाए, तो मामला बिगड़ भी सकता है। इसलिए ये जरूरी है कि भूख न लगने के पीछे जल्द से जल्द कारण का पता लगाएं और इसका उपचार करें। भूख कम होने के लक्षणों और कारणों के बारे में जानने के लिए पढ़ें हमारा ये आर्टिकल।

भूख बढ़ाने के लिए टिप्स

  • पेट की समस्याएं हमारी भूख कम करती हैं. ऐसे में दालचीनी, काली मिर्च, पुदीना और अजवायन जैसे मसाले हमारी भूख बढ़ाने में मदद कर सकते हैं. इन्हें किसी भी खाने में छिड़ककर सेवन कर सकते हैं.
  • धनिया गैस्ट्रिक एंजाइम्स को बढ़ाता है, जिससे डाइजेशन अच्छा होता है और भूख बढ़ती है. ख़ाली पेट धनिए के पत्तों का जूस पीने से अपच की समस्या सुलझती है जो भूख बढ़ाने में मदद करती है.
  • अदरक भूख बढ़ाने का रामबाण उपाय है. धनिया के बीजों और अदरक पाउडर को अच्छे से पानी में पकाकर और इसका जूस पीने से भूख बढ़ती है।

वजन कम होना-
भूख न लगने का सबसे आम और शुरुआती लक्षण है वजन कम होना। इससे कुछ मामलों में कुपोषण बढ़ सकता है। यदि दिनभर भूखे रहने के बाद आपका वजन कम होने लगे, तो जितनी जल्दी हो सके, डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए। क्योंकि आपकी खराब भूख, अवसाद, एनोरेक्सिया नर्वोसा या बुलिमिया जैसी खाने की गड़बड़ी की बड़ी वजह हो सकती है।

थकान 

कुछ मामलों में भूख न लगने पर लोगों के मुंह का स्वाद चला जाता है। शरीर में थकान और कमजोरी इतनी बढ़ जाती है कि भूख लगने पर भी खाने की इच्छा नहीं होती। विशेषज्ञों के अनुसार, सही मात्रा में पोषक तत्व न लेने से व्यक्ति का शरीर जल्दी थक जाता है और उसे कुछ भी खाने का मन नहीं होता।

खाने की इच्छा नहीं होना-

अगर आपने सुबह से कुछ भी नहीं खाया है, तब भी कुछ खाने का मन न करे, तो ये भूख में कमी का लक्षण है। खाने की इच्छा न करना ध्यान देने योग्य लक्षण है।

​भूख कम होने का कारण-

कम भूख के पीछे अलग-अलग स्वास्थ्य स्थितियां हो सकती हैं। ज्यादातर मामलों में कारण का उपचार होने के बाद कम भूख की समस्या से छुटकारा मिल जाता है। यहां आप भूख कम होने के पीछे के कारण जान सकते हैं।

बैक्टीरिया- बैक्टीरिया या वायरस भूख न लगने के सबसे बड़े कारणों में से है। यदि बैक्टीरियल इंफेक्शन की वजह से आपको कम भूख लगती है, तो संक्रमण का इलाज होने के बाद आप अपनी भूख में बहुत अंतर देख सकते हैं। बहुत जल्दी आपकी भूख पहले जैसे सामान्य हो जाएगी।

दवाओं का सेवन करना

किसी बीमारी के लिए नियमित रूप से किसी दवा का सेवन करना भी भूख में कमी की वजह बन सकता है। यानी कि कुछ दवाएं आपकी भूख को प्रभावित करती हैं। भूख न लगने की स्थिति ज्यादातर तब बनती है जब दवाएं किसी व्यक्ति के पेट और पाचन तंत्र से होकर गुजरती हैं। इस मामले में ज्यादातर डॉक्टर्स एंटीबायोटिक, इम्यूनोथेरेपी और कीमोथेरेपी का सुझाव देते हैं।

जरा इसे भी पढ़िये